19 Aug 2019, 03:12:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
UPElection

फर्जी मतदान रोकने को प्रशासन ने दिये कड़े दिशा निर्देश

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 18 2019 10:45PM | Updated Date: Apr 18 2019 10:45PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

झांसी। निर्वाचन आयोग के साफ सुथरे और पारदर्शी तरीके से मतदान और ज्यादा से ज्यादा लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य पर उत्तर प्रदेश का झांसी प्रशासन कड़ाई से काम कर रहा है इसी क्रम में गुरूवार को फर्जी मतदान रोकने के सख्त निर्देश जारी किये गये। जिला निर्वाचन अधिकारी शिवसहाय अवस्थी ने पैरामेडीकल आडीटोरियम में लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के अन्तर्गत पीठासीन अधिकारी सहित मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय व तृतीय को सामान्य प्रशिक्षण व ईवीएम तथा वीवीपैट के प्रशिक्षण सत्र के दौरान कहा कि  आयोग ने इस बार वोटर पर्ची को मान्यता नहीं दी है। वोट करने के लिए आयोग द्वारा 11 विकल्प दिए गये हैं उनमें से कोई एक साथ लाना होगा तभी मतदान कर सकेगें। मतदान के लिए आधार कार्ड के प्रयोग पर संवेदनशील होकर जांच करें, ताकि फर्जी वोटिंग न हो सके। पोलिंग ऐजेन्ट अपने साथ मोबाइल नहीं रखेंगे।
 
साथ ही आईडी कार्ड अपने पास रखे। उन्होंने कहा कि मतदान लोकतंत्र का महापर्व है, इसमें सभी अपने पूर्ण मनोभाव से हिस्सा लें। इसे उत्सव की तरह मनाये, सभी का सहयोग महत्वपूर्ण है। पोलिंग पार्टी क्षेत्र में आथित्य स्वीकार न करें। मतदेय स्थल पर रवाना होने से पूर्व चैक लिस्ट से सामान का मिलान अवश्य कर लें। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर द्वारा जो जानकारियां दी जा रही है, उन्हें बेहद संवेदनशील होकर आत्मसात करें, यदि कोई बात समझ नहीं आये तो बिना संकोच पुन: जानकारी लें। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि वोटिंग कम्पार्टमेंट ऐसे स्थान पर बनाये जहां से मतदान की गोपनीयता भंग न हो साथ ही वहां सीसीटीवी कैमरा हैं तो उसे बंद कर दें व कैमरे को काले कपड़े से ढक दें। मास्टर ट्रेनर सामान्य डीआईओएस डा. एनके पाण्डेय ने सामान्य प्रशिक्षण में उपस्थित पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय व तृतीय को उनके द्वारा किये जाने वाले कार्यो को बिन्दुवार समझाया। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी मतदान केन्द्र का प्रभारी होगा और सभी मतदान अधिकारियों द्वारा किये जा रहे कार्यो पर नियंत्रण रखेगा। उन्होंने कहा कि आज निर्वाचन सम्बन्धित सामग्री का थैला दिया जा रहा हैं, उसका मिलान अवश्य कर लें।
 
यदि कोई कमी हो तो तत्काल उसे पूरा कर लें। मास्टर ट्रेनर ईवीएम व वीवीपैट आरके मौर्या ने प्रशिक्षण सत्र के दौरान बताया कि वीवीपैट बेहद संवेदनशील है उसे सीधे धूप व अधिक गर्मी से बचाया जाना महत्वपूर्ण है। उन्होने  जानकारी दी कि बीयू-सीयू के साथ वीवीपैट को कैसे लिंक किया जाना हैं  और बताया कि लिंक करते समय जोर आजमाइश का इस्तेमाल न करें साकेट दबाकर ही लिंक करें। प्रथम पाली में 1 से 230 पार्टी संख्या तथा द्वितीय पाली  231 से 459 पार्टी संख्या के कार्मिक उपस्थित रहे। इस मौके पर सामान्य प्रेक्षक डा. रेनु एस फलिया, प्रभारी कार्मिक व मुख्य विकास अधिकारी निखिल टीकाराम फुंडे, सहप्रभारी कार्मिक व पीडी डा. आरके गौतम, डीडीओ उग्रसेन सिंह यादव, अधि.अभि. विद्युत डी. यादुवेन्द्र सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »