22 Jan 2020, 14:06:55 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

देश और मानवता के लिये सिख गुरूओं का बलिदान अविस्मरणीय : योगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 13 2019 12:23AM | Updated Date: Nov 13 2019 12:23AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। देश और मानवता के लिये सिख गुरूओं के बलिदान को अविस्मरणीय बताते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि गुरूनानक देव के अंतिम दिनों के पवित्र पड़ाव करतारपुर साहिब का दर्शन करने श्रद्धालु अब बेरोकटोक जा सकेंगे। गुरूनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर डीएवी कालेज ग्राउंड पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुये उन्होने कहा ‘‘ मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और आप सभी को इसके लिये बधाई देता हूं। मोदी के प्रयास से अब वह पल संभव हुआ है जब हम ननकाना साहब के दर्शन को जा सकेंगे। ’’        

प्रकाशोत्सव की बधाई देते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि देश और मानवता के लिये सिख गुरूओं के बलिदान को भुलाया नहीं जा सकता। करीब 550 साल पहले देश विदेशी आतिताइयो के आक्रमण, धर्म और सच्चाई के मूल्यों के हनन जैसी गंभीर समस्यायों का सामना कर रहा था। उस कालखंड में गुरूनानक देव जी ने अपने दिव्य प्रकाश से मानव कल्याण की राह दिखायी। उन्होने कहा ‘‘ गुरूनानक देव जी ने विदेशी मुगल शासक बाबर का सामना करने का साहस दिखाया जब देश के लोग उसके उत्पीड़न का शिकार थे। धर्म, सच्चाई और बहन बेटियो का आदर करने के मामलों में समाज का एक बडा वर्ग अपनी आवाज उठाने से डरता था।  उस समय गुरूनानक देवजी ने समाज को ज्ञान के उजाले के साथ नयी राह दिखायी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरूनानक देव ने सिख पंथ की स्थापना की जब देश और समाज खतरे में था। सिख गुरू इसकी रक्षा के लिये आगे आये। सिख गुरूओं की त्याग और बलिदान की भावना देश के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में दर्ज है और हर भारतीय को उनका कृतज्ञ होना चाहिये। योगी ने कहा कि सिख गुरूओं के त्याग और बलिदान के कारण देश और समाज आज जीवित है। उनके इस महान योगदान के कारण दुनिया के कोने कोने में बसे भारतीय प्रकाशोत्सव के जरिये गुरूनानक देव जी को श्रद्धाजंलि अर्पित करते हैं। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »