22 May 2022, 13:38:27 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
zara hatke

एक ही शख्स ने 24 घंटे के भीतर लगवाईं वैक्सीन की 10 डोज, सरकार ने किया ये काम

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 12 2021 12:22PM | Updated Date: Dec 12 2021 12:22PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

दुनियाभर में इस समय कोरोना वायरस और उसके खतरनाक वेरिएंट्स से बचाव के लिए लोग वैक्सीन लगवा रहे हैं। कोई सरकार की मुफ्त सेवा का लाभ उठाते हुए वैक्सीन लगवा रहा है, तो कोई इसके लिए पैसे दे रहा है। तो वहीं कई देशों में लोगों को वैक्सीन लगवाने के बदले पैसा या तोहफे दिए जा रहे हैं। वहीं आम जनता में कोई पहली डोज लगवा रहा है, तो कोई दूसरी या बूस्टर डोज। नए और तेजी से फैलने वाले ओमीक्रॉन वेरिएंट के मिलने के बाद से वैक्सीन की मांग में भी इजाफा देखने को मिला है। इस बीच न्यूजीलैंड से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है।
 
यहां के एक शख्स के लिए जीवन बचाने वाली वैक्सीन ही, जीवन के लिए खतरा बन सकती है। जिसके लिए वो खुद ही जिम्मेदार है। अभी केवल वैक्सीन की तीन डोज तक ही लेने की अनुमित है, जिसके समय में भी अंतर होता है । लेकिन न्यूजीलैंड के इस शख्स ने महज 24 घंटे के भीतर वैक्सीन की 10 डोज लगवा ली हैं। खबर सामने आने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय हरकत में आया और जांच के आदेश दिए गए।  व्यक्ति को प्रत्येक डोज लगवाने के बदले पैसे भी मिले हैं। जिसके चलते वह एक ही दिन में कई टीकाकरण केंद्रों में गया। अधिकारियों का कहना है कि उन्हें वैक्सीन के ओवरडोज के मामले की जानकारी मिली है और इसे गंभीरता से ले रहे हैं। न्यूजीलैंड स्वास्थ्य मंत्रालय के टीकाकरण कार्यक्रम के ग्रुप मैनेजर एस्ट्रिड कोर्निफ ने कहा, यह बेहद चिंताजनक स्थिति है और हम कई एजेंसियों के संपर्क में हैं । अगर आप किसी ऐसे व्यक्ति को जानते हैं, जिसने वैक्सीन की कई डोज ली हैं, तो उसे जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलने की सलाह दें। मंत्रालय का कहना है कि जिस स्थान पर शख्स ने ढेर सारी डोज लगवाई हैं, वहां इसका डाटा मौजूद नहीं है। ऑकलैंड यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर निक्की टर्नर का कहना है कि वैक्सीन का इस्तेमाल प्राथमिक डाटा के आधार पर किया जा रहा है। जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। लेकिन कई वैक्सीन की डोज लेना सेहत के लिए हानिकारक है। हालांकि इसे लेकर कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है कि इससे शरीर को कौन से नुकसान हो सकते हैं। लेकिन ये वाकई में सुरक्षित नहीं है और व्यक्ति के लिए गंभीर खतरा उत्पन्न कर सकती है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »