26 Feb 2020, 22:20:40 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
zara hatke

यह दो आदमखोर भाई, जो कब्र से निकालकर खाते है मुर्दे, ये है वजह

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 15 2020 1:31AM | Updated Date: Jan 15 2020 1:31AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। आज से करीब छह साल पहले भी एक ऐसा मामला सामने आया था। इस घटना नें आदमी और जानबर में फर्क खत्‍म कर दिया है। लेकिन पाकिस्तान में कुछ साल पहले ऐसा ही कुछ देखने और सुनने को मिला था। यहां दो ऐसे आदमखोर (नरभक्षी) भाई हैं, जो कब्र से निकालकर 150 से ज्यादा मुर्दे खा गए थे। इन दोनों भाईयों का नाम मोहम्मद फरमान अली और मोहम्मद आरिफ अली है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित भक्कर जिले के दरया खान इलाके में मौजूद खवावार कलन गांव के रहने वाले ये दोनों भाई शादीशुदा हैं, लेकिन उनकी बीवियां उन्हें छोड़कर जा चुकी हैं। उनका आरोप था कि ये दोनों उन्हें मारते-पीटते थे और गाली-गलौत करते थे। दोनों नरभक्षी भाईयों को साल 2011 में पहली बार तब गिरफ्तार किया गया था, जब वही पास के ही एक कब्रिस्तान से एक महिला का शव अचानक गायब हो गया।
 
उस महिला का नाम सायरा परवीन (24) था और उसकी मौत कैंसर से हुई थी। सायरा के घरवाले जब उसे कब्रिस्तान में दफनाकर चले गए और अगले दिन वहां आए तो देखा कि उसकी कब्र खुदी हुई थी और सायरा का शव गायब था, जिसके बाद उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस में की। छानबीन के दौरान पुलिस को कहीं से पता चला कि सायरा के शव के गायब होने में फरमान अली और आरिफ अली का हाथ है, जिसके बाद पुलिस उनके घर पहुंची तो देखा कि अंदर वाले कमरे में एक पतीले में करी जैसी कोई चीज रखी हुई थी। जब पुलिस ने और भी जगहों पर जांच की तो उन्हें घर के बाहर एक बोरी में सायरा की लाश मिली, जिसे देखकर वो चौंक गई, क्योंकि उस लाश के अंग कटे हुए थे। इसके बाद पुलिस ने दोनों भाईयों को हिरासत में ले लिया और करी वाले उस पतीले को जांच के लिए लैब में भिजवाया, जहां पता चला कि वो करी इंसानी मांस की बनी हुई थी।    
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »