21 Jul 2024, 17:57:20 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

नेपाल में भूस्खलन से एक परिवार के चार सदस्यों की मौत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 14 2024 12:25PM | Updated Date: Jun 14 2024 12:25PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नेपाल में इनदिनों भारी बारिश ने तबाही मचाई हुई है। यहां पिछले कई दिनों से हो रही बारिश से अब भूस्खलन होने लगा है। जिसके चलते अब तक चार लोगों के मारे जाने की खबर है। बताया जा रहा है कि भारी बारिश के चलते कई नदियां उफान पर हैं और उनमें बाढ़ आ गई है। जिसके चलते कई तटीय इलाकों में पानी भर गया है और भूस्खलन होने लगा है। बताया जा रहा है कि ताप्लेजंग जिले के फक्तांगलुंग ग्रामीण नगर पालिका की सिंसावा नदी में आई बाढ़ से तमोर नदी अवरुद्ध हो गई है। इलाके में बुधवार से ही भारी बारिश हो रही है। बताया जा रहा है कि नदी में आई बाढ़ के चलते सिन्सावा नदी में भूस्खलन भी हुआ है। ये नदी फक्तांगलुंग ग्रामीण नगर पालिका के प्रशासनिक केंद्र तापेथोक के पास बहती है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्वी नेपाल के तापलेजंग जिले में गुरुवार रात लगातार बारिश के कारण हुए भूस्खलन के चलते एक ही परिवार के कम से कम चार लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों के मुताबिक, राजधानी काठमांडू से करीब 580 किलोमीटर दूर ताप्लेजंग जिले के फत्तांगलुंग ग्रामीण नगर पालिका-2, टिंगडू में देर रात एक घर भूस्खलन की चपेट में आ गया। जिससे परिवार के चार लोगों की मौत हो गई।

ग्रामीण नगर पालिका के अध्यक्ष राजन लिम्बु ने बताया कि, "भूस्खलन ने एक ही परिवार के चार लोगों की जान ले ली, क्योंकि देर रात घर भारी बारिश से ढह गया। इस दौरान दो अन्य लोग घायल भी हुए हैं। गुरुवार से ही भारी बारिश हो रही है। जिसके चलते भूस्खलन हो रहा है। फिलहाल राहत बचाव अभियान जारी है, बाढ़ के चलते हुए भूस्खलन में दो घर बह गए हैं।"

बता दें कि इससे पहले बुधवार को भारी बारिश के बाद टैपलेजंग इलाके में अचानक आई बाढ़ से एक लकड़ी के पुल को नुकसान पहुंचा है। साथ ही इससे तमोर नदी थोड़े समय के लिए अवरुद्ध हो गई। जिसके बाद नदी का प्रवाह रुक गया, इसके चलते कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ। उधर भारी बारिश के कारण आई बाढ़ और सैलाब ने निकटवर्ती जिले संखुवासभा में तीन घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया और लाखों रुपये की फसल बर्बाद हो गई। इससे पहले बुधवार को, स्थानीय भालुखोला नदी में अचानक आई बाढ़ से एक पुल बह गया, जिससे गांवों का संपर्क टूट गया और यातायात प्रवाह बाधित हो गया।

 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »