13 Jun 2021, 20:57:54 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

38 घंटों में दागे 1050 से ज्यादा रॉकेट, लोगों ने देखा तबाही का ये मंजर, वीडियो

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 12 2021 6:43PM | Updated Date: May 12 2021 6:43PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। इजरायल में यरूशलम डे क्या मना, जंग ही छिड़ गई। अल अक्सा मस्जिद के बाहर हुई हिंसक घटना ने अब इतना बड़ा रूप ले लिया है कि इजरायल-फिलिस्तीन दोनों ओर से रॉकेट, बम दागे जा रहे हैं। हाल ही मिली जानकारी के अनुसार, आतंकवादी दक्षिणी इजराइल में रॉकेटों से गोलीबारी कर रहे हैं।

इजरायल एयरफोर्स ने जानकारी दी कि कुछ समय पहले, एक आईडीएफ विमान ने एंटी टैंक मिसाइलों का संचालन करने वाले दो हमास दस्तों को मार गिराया। इजरायल डिफेंस फोर्स के अनुसार, 38 घंटों में पूरे मध्य और दक्षिणी इज़राइल में 1050 से ज्यादा रॉकेट दागे जा चुके हैं। वहीं गाजा की पत्रकार अया इस्लीम ने वीडियो ट्वीट कर इजरायल की ओर से लगातार बमबर्षा होने की बात कही है।

इस्लीम ने कहा, इज़राइल f-35 युद्धक विमानों का इस्तेमाल कर रहा है, जो मुझे लगता है कि पहली बार है। ये आवाज अविश्वसनीय थी और मुझे नहीं लगता कि मैंने इसे पहले कभी सुना है।

इस बीच संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि गाजा में हिंसा एक "पूर्ण पैमाने पर युद्ध" के तौर पर बढ़ सकती है। इज़राइल ने गाजा पर भारी हवाई हमले किए और फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने इजरायल में सैकड़ों रॉकेट दागे हैं। सोमवार से अब तक कम से कम 43 फ़िलिस्तीनी मारे गए हैं। जिनमें 13 बच्चे शामिल हैं। वहीं कम से कम छह इजरायल भी मौजूदा गतिरोध में मारे गए हैं। ये संख्या लगातार बढ़ रही है।

ये संघर्ष उस वक्त बढ़ा जब फिलीस्तिनियों ने पवित्र दीवार के पास प्रार्थना कर रहे लोगों और उनकी सुरक्षा कर रहे जवानों पर पत्थरबाजी की। 1967 के अरब-इजराइल युद्ध में जीत के बाद इजराइल यरूशलम डे, यानी उस जीत की वर्षगांठ मनाता रहा है। यरूशलम के शेख जर्राह इलाके को यहूदी और मुस्लिम दोनों ही पवित्र स्थल मानते हैं। दोनों संप्रदायों की ओर से इस जगह को अपना पवित्र धार्मिक स्थल मानने और इस पर दावा करने की वजह से वर्षों से संघर्ष बढ़ता रहा है।

हमास को कनाडा, यूरोपीय संघ, इज़राइल, जापान और संयुक्त राज्य अमेरिका आतंकवादी संगठन मानते हैं। इजरायल और हमास के बीच 2014 के बाद से सबसे बड़ा युद्ध हुआ है। जिसमें रातोंरात करीब 40 लोगों की जान चली गई है। मिली जानकारी के अनुसार, इसमें कम से कम 35 लोग गाजा में मारे गए और पांच इजरायलों ने जान गंवाई है।

इजरायल ने बुधवार की तड़के गाजा में सैकड़ों हवाई हमले किए, क्योंकि इस्लामवादी समूह व अन्य फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने तेल अवीव और बेर्शेबा में कई रॉकेट दागे। गाजा में एक बहु-मंजिला आवासीय इमारत ढह गई और इजरायल के हवाई हमलों की चपेट में आने के बाद भारी क्षति हुई।

इजरायल ने कहा कि उसके जेट विमानों ने बुधवार तड़के हमास के कई खुफिया नेताओं को निशाना बनाया और मार दिया। यह गाजा में 2014 के युद्ध के बाद से इजरायल और हमास के बीच सबसे आक्रामक हमला था। इसने अंतरराष्ट्रीय चिंता को पैदा कर दिया है कि स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »