26 Jan 2022, 11:14:36 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

Share Market: बिजली-फार्मा कंपनियों ने सेंसेक्स को दिलाई बढ़त, गिरावट से Nifty भी उबरा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 23 2021 5:06PM | Updated Date: Nov 23 2021 5:06PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। बिजली, दूरसंचार और फार्मा कंपनियों के शेयरों में लाभ से मंगलवार को सेंसेक्स एक दिन पहले की भारी गिरावट से उबर गया और 198 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। शुरुआती कारोबार में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स करीब 700 अंक टूट गया था। लेकिन बाद में इसने अपने नुकसान की भरपाई की और अंत में यह 198.44 अंक या 0.34 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,664.33 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 86.80 अंक या 0.50 प्रतिशत के लाभ से 17,503.35 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स की कंपनियों में पावरग्रिड का शेयर करीब चार प्रतिशत चढ़ गया। एनटीपीसी, टाटा स्टील, भारती एयरटेल, सन फार्मा और बजाज फिनसर्व के शेयर भी लाभ में रहे। दूसरी ओर इंडसइंड बैंक, एशियन पेंट्स, इन्फोसिस, बजाज ऑटो और मारुति के शेयर 2.59 प्रतिशत तक टूट गए। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘धातु, सरकारी बैंक और फार्मा कंपनियों के शेयरों की अगुवाई में घरेलू शेयर बाजार गिरावट से उबर गए। मिडकैप और स्मॉलकैप का प्रदर्शन मुख्य सूचकांकों से बेहतर रहा।’’ उन्होंने कहा कि जेरोम पावेल को फिर से फेडरल रिजर्व का चेयरमैन नामित किया गया है। 
 
इसके बावजूद कल कारोबार के अंतिम घंटे में अमेरिकी बाजारों में बिकवाली का सिलसिला चला। अन्य एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में रहे। वहीं चीन के शंघाई कम्पोजिट और जापान के निक्की में लाभ रहा। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,170.12 अंक यानी 1.96 प्रतिशत के नुकसान के साथ 58,465.89 अंक पर आ गया था। सेंसेक्स में लगातार चौथे कारोबारी सत्र में गिरावट आई। यह दो माह में सेंसेक्स का सबसे निचला बंद स्तर था। 12 अप्रैल के बाद यह एक दिन में सेंसेक्स की सबसे बड़ी गिरावट है। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 348.25 अंक यानी 1.96 प्रतिशत टूटकर 17,416.55 अंक पर बंद हुआ।
 
बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एनटीपीसी, टाइटन और एसबीआई के शेयर 5.74 प्रतिशत तक टूट गए थे। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने सऊदी अरामको के साथ 15 अरब डॉलर में अपने तेल रिफाइनरी और पेट्रोरसायन कारोबार में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी का प्रस्तावित सौदा रोक दिया है। इन खबरों के बाद रिलायंस के शेयरों में 4 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज हुई। दूसरी ओर भारती एयरटेल, एशियन पेंट्स और पावरग्रिड के शेयर लाभ में रहे थे। बीएसई में पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस का शेयर 13 प्रतिशत के नुकसान से 1,360.30 रुपये पर आ गया। LKP सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा कि बीते सप्ताहांत कई घटनाक्रमों के बाद आज अंतत: बाजार में मंदड़िया रुख कायम हो गया था। धातु को छोड़कर अन्य सभी खंडों के सूचकांक नीचे आए। उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा से सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के शेयर प्रभावित हुए थे।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »