13 Jun 2021, 18:46:41 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

CM शिवराज बोलें- कोरोना से नागरिको की जिंदगी बचाना सरकार की प्राथमिकता

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 13 2021 8:29PM | Updated Date: May 13 2021 8:29PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

शहडोल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना काल में हर हाल में और हर कीमत पर लोगों की जिंदगी बचाना मध्यप्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। मध्यप्रदेश सरकार इस दिशा में निरंतर प्रयास कर रही है। चौहान आज शहडोल में कोरोना से बचाव के लिए किये जा रहे प्रयासों की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में जन-प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रकरणों में तेजी से कमी आ रही है। उन्होंने कहा कि मैं इस संकल्प के साथ शहडोल आया हूँ कि कोरोना का संक्रमण हम सबको मिलकर समाप्त करना है तथा जो संक्रमित हो गये हैं, उन कारोना मरीजों को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ मिलें, यह सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि कोरोना को भगाने के लिए हम सबको मिलकर अंतिम प्रहार करना है और कोरोना को सदा के लिए भगाना है।
 
इसके लिए हम सबको मिलकर कोरोना कर्फ्यू का पालन करना होगा, टीकाकरण में सहजता से भाग लेना होगा तथा कोरोना के प्रति लोगों को जागरूक करना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों में कई भ्रांतियाँ फैली हुई हैं, लोगों की भ्रांतियों को दूर करने के लिए सतत अभियान चलायें। इस अभियान में जन-प्रतिनिधियो की भागीदारी भी सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि किसी परिवार के मुखिया की मौत कोरोना से हो जाती है, तो ऐसे परिवार को प्रदेश सरकार 5 हजार रूपये की पेंशन देगी तथा मुखिया की पत्नी अगर कोई रोजगार स्थापित करना चाहे, तो सरकार उसकी मदद करेगी, ऐसे परिवार के बच्चों का भरण-पोषण एवं शिक्षा का भार प्रदेश सरकार उठायेगी। 
 
चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण को चिन्हित करने के लिए सैम्पलिंग बढायें। मुख्यमंत्री ने किल कोरोना अभियान की जिलेवार समीक्षा करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण पूरी तरह समाप्त करना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। आपदा प्रबंधन समिति, जनपद पंचायत स्तर पर तथा ग्रामों में भी सक्रियता से काम करे, इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करायें। बैठक में किल कोरोना अभियान की समीक्षा करते हुए कहा कि किल कोरोना अभियान का उद्देश्य लोगों की सुरक्षा करना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान के तहत घर-घर जाकर सर्वें होना चाहिये। सर्दी, जुकाम एवं बुखार वालों का समुचित उपचार होना चाहिये तथा कोरोना की स्थिति पाये जाने पर ऐसे मरीजों का आइसोलेशन होना चाहिये। मुख्यमंत्री ने शहडोल, अनूपपुर एवं उमरिया जिले के कलेक्टरों से किल कोरोना अभियान की प्रगति की जानकारी ली।
 
चौहान ने कहा कि शहडोल संभाग के जिन क्षेत्रों में कोरोना कर्फ्यू नही लगा है, वहाँ कोरोना कर्फ्यू लगाना सुनिश्चित किया जाये। बैठक में शहडोल जिले के प्रभारी मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने सुझाव दिया कि तेंदूपत्ता संग्रहण के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित किया जाये तथा संग्रहण केन्द्रों में मास्क पहनना अनिवार्य किया जाये। इसी प्रकार अध्यक्ष नगरपालिका उर्मिला कटारे ने सुझाव दिया कि राशन की दुकानों से राशन वितरण के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित करायें। विधायक शरद कोल ने सुझाव दिया कि ग्रामीण क्षेत्रो में कोरोना कर्फ्यू का पालन सुनिश्चित किया जाये तथा टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक किया जाये। बैठक में विधायक जैतपुर मनीषा सिंह ने सुझाव दिया कि ग्रामीण क्षेत्रो में लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक किया जाये। आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य कमल प्रताप सिंह ने सुझाव दिया कि कोरोना पॉजिटिव लोगों की जानकारी समय पर मुहैया कराने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के सूचना तंत्र को सक्रिय किया जाये। सदस्य आजाद बहादुर सिंह ने भी महत्वपूर्ण सुझाव दिये।
समीक्षा के दौरान कमिश्नर शहडोल संभाग राजीव शर्मा ने बताया कि कोरोना मरीजों के उपचार के लिये शहडोल मेडिकल कॉलेज, उमरिया और अनूपपुर में ऑक्सीजन सिलेण्डरों की समुचित व्यवस्था है, वर्तमान में शहडोल संभाग में ऑक्सीजन सिलेण्डर की कहीं कमी नही है। बैठक में कमिश्नर ने बताया कि मेडिकल कॉलेज शहडोल में 123 नर्सों की भर्ती की गई है तथा 4 डॉक्टर्स एवं पैरामेडिकल स्टाफ की भी भर्ती की गई है।
बैठक में चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 5 करोड 29 लाख डोज के ऑर्डर दिए गये हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज शहडोल में सीटी स्केन मशीन, एमआरआई मशीन तथा 180 ऑक्सीजन के बेड्स बढ़ाये जायेंगे तथा अनूपपुर जिले में 30 ऑक्सीजन बेड्स एवं 10 आईसीयू बेड्स बढाये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि उमरिया में 40 ऑक्सीजन बेड्स तथा 30 आईसीयू बेड्स बढाये जायें तथा शहडोल, उमरिया एवं अनूपपुर में 6-6 वेंटीलेटरयुक्त बेड्स बढाये जायेंगे।
 
बैठक में विधायक जयसिंहनगर जयसिंह मरावी, कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह, पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी, डीन मेडिकल कॉलेज डॉ. मिलिंद शिरालकर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री चौहान ने आज शहडोल भ्रमण के दौरान कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभागार में 'मैं कोरोना वॉलिंटियर्स'' अभियान के प्रगति की समीक्षा की तथा संकेतिक रूप से वॉलेंटियर्स को किट का वितरण किया तथा वालेंटियर्स से कोरोना संक्रमण बचाओ संबंधी किये जा रहे जन-जागरूकता के संबंध में पूछताछ की। चौहान की उपस्थिति में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ब्यौहारी को विधायक ब्योहारी द्वारा विधायक निधि से दी गई एंबुलेंस को विधायक ब्यौहारी शरद कोल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »