10 May 2021, 11:00:26 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Others

कुंभ, गुजरात और महाराष्ट्र से आये लोगों के कारण गांवों में फैला कोरोना : गहलोत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 19 2021 12:24AM | Updated Date: Apr 19 2021 12:24AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कुंभ, गुजरात और महाराष्ट्र से आने वालों के कारण गांवों में कोरोना फैला है। आज वीडियो कांफ्रेंस में कोरोना की स्थिति पर हुई ओपन बैठक में गहलोत ने कहा कि पहले कहते थे कि कोरोना गांवों में नहीं फैलता, लेकिन अब 30 फीसदी कोरोना मरीज गांवों से आ रहे हैं। कुंभ से आने वालों के कारण गांवों में कोरोना फैला है। गुजरात-महाराष्ट्र से आने वालों के कारण डूंगरपुर, उदयपुर, बांसवाड़ा सहित कई जिलों के गांवों में महामारी ज्यादा फैली है।

उधर, एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सुधीर भंडारी ने दो टूक कहा- जो लॉकडाउन के विरोधी हैं, वे किसी भी अस्पताल की इमरजेंसी में एक घंटा गुजार लें, भयावहता समझ आ जाएगी। जिंदा रहना ज्यादा जरूरी है, जीविका बाद में है। गहलोत ने कहा, पहले भिवाड़ी में ऑक्सीजन बन रही थी। उसे भारत सरकार ने सेंट्रलाइज्ड वितरण का फैसला किया। भारत सरकार ने पहले राजस्थान को नाममात्र का ऑक्सीजन अलॉट किया। अब जाकर जामनगर से ऑक्सीजन का कोटा मिला है।

जामनगर में टैंकर नहीं है। वहां से ऑक्सीजन लाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि दूसरे चरण में कोराना की रफ्तार बहुत घातक है। परिवार का परिवार खत्म हो रहे हैं। पहले नौजवानों में कम था। अब नौजवान भी चपेट में आ रहे हैं। राजस्थान में मृत्यु दर बढ़ रही है। किसी ने सोचा नहीं होगा कि राजस्थान में इतनी मृत्यु दर होगी। पड़ोसी राज्यों के हालात सबके सामने है। रेमडिसिवर, ऑक्सीजन की कमी है। शनिवार को ऑक्सीजन और दवाओं को लेकर प्रधानमंत्री को अफसरों और राज्यों के साथ वीडियो कांफ्रेंस करनी पड़ी।

गहलोत ने कहा- पिछली बार पूरे साल जितना तनाव नहीं था, उतना एक माह में हो गया है। यूके ने चार माह लॉकडाउन लगाया, सिंगापुर ने भी बहुत कड़े कदम उठाए। सिंगापुर में बिना मास्क बाहर निकलने पर 5000 डॉलर जुर्माना है। हमें भी अपने राज्य को बचाना है। मास्क वैक्सीन से कम नहीं है। मास्क, सोशल डिस्टेसिंग और बार-बार हाथ धोने पर जोर देना होगा। लोगों ने लापरवाही बरतनी शुरू कर दी है, इसलिए ऐसे हालात बन रहे हैं। गहलोत ने कहा, वैक्सीनेशन में भारत सरकार की नीति ठीक नहीं है। भारत सरकार ने पहले फ्रंट लाइन, फिर 60 साल, फिर 45 साल किया जो ठीक नहीं है।

वैक्सीन को ओपन करना चाहिए था। विदेश से वैक्सीन मंगवाने की अनुमति देनी चाहिए थी। बैठक में चिकित्सा विभाग के प्रमुख सचिव सिद्धार्थ महाजन ने कहा कि आने वाले 13 दिन में कोरोना के 1.30 लाख मामले होने की आशंका है। अभी राज्य में 67 हजार एक्टिव मामले हैं। कोविड से मरने वालों में 30 फीसदी ग्रामीण इलाकों के हैं। पहले यह मिथक था कि यह शहरी क्षेत्र की बीमारी है। अब ग्रामीण इलाकों में भी कोविड फैल रहा है। इंडस्ट्रियल की सप्लाई रोकी चिकित्सा विभाग के प्रमुख सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि कई जिलों में ऑक्सीजन बेड करीब-करीब फुल हो गए हैं। ऑक्सीजन सप्लाई के लिए भारत सरकार से बात की गई है। ऑक्सीजन प्लांट्स को 24 घंटे बिजली दी जाएगी।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »