20 Apr 2021, 01:05:28 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

Madhya Pradesh Budget मे हुए बड़े ऐलान, आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश बनाने पर फोकस

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 2 2021 12:24PM | Updated Date: Mar 2 2021 12:25PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

भोपाल। मध्य प्रदेश का पहला ई-बजट आज पेश हुआ है। वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा टैबलेट ने विधानसभा में वित्त वर्ष 2021 22 के लिए राज्य का बजट पेश करा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चौथे कार्यकाल का यह पहला बजट है, जिसमें आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश बनाने पर फोकस है। इंफ्रास्ट्रक्चर, शिक्षा, रोजगार, किसानों, कर्मचारियों और महिलाओं पर विशेष ध्यान दिया गया है। 

राज्य में 2441 किलोमीटर नई सड़कों का निर्माण होगा। मध्य प्रदेश में आगामी तीन वर्षों में 105 रेलवे क्रॉसिंग (Railway Crossing ) पर 105 फुट ओवर (Foot over bridge) ब्रिज बनेंगे.

चंबल में अटल प्राग्रेसवे (Atal Progressway) बनने की कार्रवाई शुरू हो गई है। नर्मदा एक्सप्रेसवे का DPR तैयार हो रहा है। दोनों एक्सप्रेसवे के किनारे औद्योगिक क्लस्टरों का निर्माण होगा। 

सीएम राइज योजना (CM Rise Scheme) के तहत 9200 सर्व सुविधायुक्त विद्यालयों की स्थापना होगी। प्रत्येक बसाहट के 15 किलोमीटर के दायरे में एक स्कूल होगा। इसके तहत पहले चरण (Phase I) में 350 स्कूलों को बनाया जा रहा है, जिसके लिए इस बजट में 1500 करोड़ का प्रावधान किया गया है। साल 2021-22 में सरकार 24,200 शिक्षकों की भर्ती करेगी। 

नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा (New and renewable energy) के क्षेत्र में रीवा सोलर पॉवर प्लांट अपनी पूर्ण क्षमता के साथ संचालित है। ओंकारेश्वर में विश्व का सबसे बड़ा फ्लोटिंग पॉवर प्लांट (Floating power plant) बनाने की योजना प्रस्तावित है। 4500 मेगावाट के नए सोलर पार्क (Solar Park) बनाए जाएंगे। 

शासकीय महाविद्यालयों (Universities) की अधोसंरचना के विकास हेतु रु. 889 करोड़ का प्रावधान प्रस्तावित है ।

मंदिरों का जोर्णोधार किया जाएगा. साथ ही मंदिरों में कार्यरत पुजारियों को नियमित भत्ता पूर्व की तरह ही दिया जाएगा.

अगले साल तक 3250 तक किया जाएगा प्रदेश में MBBS की सीटों को। 

नर्सिंग स्कूलों की सीटें भी बढ़ाई जाएंगी।

साल 2022 को खेलो इंडिया इवेंट मध्य प्रदेश में होगा, इसके लिए केंद्र सरकार की सहमति प्राप्त हो गई है। भोपाल, इंदौर सहित अन्य शहरों में स्पोर्ट इवेंट्स के लिए फेसिलिटीज बनेंगी.

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »