20 Sep 2020, 10:57:03 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

CM योगी को हिरासत छोड़ने की धमकी, आरोपियों को STF ने किया गिरफ्तार

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 26 2020 12:21AM | Updated Date: May 26 2020 12:21AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी देने वाले कामरान अमीन को हिरासत से छोड़ने की धमकी देने वाले सैय्यद मोहम्मद फैसल को एसटीएफ ने नासिक (महाराष्ट्र) ए.टी.एस. के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों को स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) लखनऊ लेकर आ रही है। एसटीएफ प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी दी।
 
उन्होंने बताया कि डायल-112 के सोशल मीडिया डेस्क के व्हाट्सएप पर योगी को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले आरोपी कामरान अमीन को हिरासत से छोड़ने की कल पुन: धमकी देने वाले सैय्यद मोहम्मद फैसल निवासी जीनत मंजिल, दारूलस्लाम कालोनी मदीना चौक नासिक (महाराष्ट्र) मूल पतासैय्यद हाउस तुरकहिया, शिवनगर,बस्ती को गिरफ्तार कर लिया ।
 
उन्होंने बताया कि पुलिस के डायल-112 के सोशल मीडिया डेस्क के व्हाट्सएप पर 21 मई को मुख्यमंत्री को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले का मैसेज प्राप्त हुआ। जिसके विरूद्ध तत्काल गोमतीनगर में मुकदमा  पंजीकृत कराया गयाथा। इस विवेचना में सहयोग के लिए एसटीएफ की एक टीम 23 मई को मुम्बई से कामरान अमीन को गिरफ्तार कर कल मुम्बई के सक्ष्म न्यायालय में प्रस्तुत किया।
 
अदालत से उसे 27 मई तक यात्रा रिमाण्ड प्राप्त कर रवाना थी कि पुन:  24 मई को डायल-112 के सोशल मीडिया डेस्क के व्हाट्सएप पर कामरान अमीन को हिरासत से छोड़ने की धमकी दी गयी तथा थाना गोमतीनगर के सरकारी सीयूजी नम्बर पर भी कामरान को न/न छोड़ने पर अन्जाम भुगतने की धमकी दी थी। प्रवक्ता ने बताया कि इस मामले की गम्भीरता को देखते हुए रवि परदेशी पुलिस अधीक्षक एटीएस नासिक महाराष्ट्र से सम्पर्क कर सहयोग मांगा गया।
 
एसटीएफ के निरीक्षक अंजनी कुमार तिवारी के नेतृत्व में निरीक्षक ज्ञानेन्द्र राय मुख्य आरक्षी विनोद सिंह एवं प्रभाकर पाण्डेय की टीम पूर्व से ही मुम्बई भेजी गयी थी, जिसे तत्काल नासिक पहुचने के लिए निर्देषित किया। अभिसूचना संकलन के दौरान पता चला कि जिस नम्बर से मैसेज कर धमकी दी गयी थी वह नम्बर सैय्यद मोहम्मद फैसल पुत्र अब्दूल वहाब निवासी जीनत मंजिल, दारूलस्लाम कालोनी मदीना चौक, नासिक (महाराष्ट्र) का है।
 
एसटीएस नासिक एवं एसटीएफ उक्त पते पर पहुंचकर सैय्यद मोहम्मद फैसल को पूछताछ के लिए एटीएस कार्यालय नासिक लाया गया पूछताछ पर उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया जिस पर उसे हिरासत में ले लिया गया उसके पास से धमकी से सम्बन्धित मोबाईल फोन व  दोनों सिमकार्ड बरामद हुए। उन्होंने बताया कि इसके द्वारा धमकी दिये जाने वाले मैसेज को डिलीट कर दिया गया था। गिरफ्तार सैय्यद मोहम्मद फैसल से पूछताछ पर उसने बताया कि उसकी उम्र करीब 20 वर्ष है वह बी-काम कर रहा है। 
 
यह भी बताया कि उसके पिता अम्बिका प्रताप नारायण राजकीय लॉ कालेज बस्ती में लेक्चरर है। सैय्यद मोहम्मद फैसल अपने मामू के यहॉ नासिक में रह कर पढाई कर रहा है तथा देवबन्द वहाबी को मानने वाला है और मदनी सेन्टर मस्जिद व दारूलस्लाम मस्जिद बजरंग नगर, अम्बाड, नासिक जाता रहता है जिसके ट्रस्टी उसके मामू है।
 
उत्तर प्रदेष के हेल्प डेस्क-112 नम्बर पर धमकी का मैसेज भेजने तथा गोमतीनगर थाने के सीयूजी नम्बर पर काल कर कामरान अमीन को छोडने के सम्बन्ध में की गयी काल का अपराध स्वीकार किया। अन्य पहलुओं पर जांच की जा रही है। आरोपी सैय्यद मोहम्मद फैसल को आई आदि एक्ट हिरासत में लेकर आज नासिक के सक्ष्म न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। नासिक के सक्ष्म न्यायालय द्वारा सैय्यद मोहम्मद फैसल का 27 तक का यात्रा रिमाण्ड स्वीकृत कर लिया गया है। इस प्रकार दोनो ही अभियुक्तों कामरान अमीन तथा सैय्यद मोहम्मद फैसल को आगे की कार्रवाई के लिए एस्टीएफ की टीम लखनऊ लेकर आ रही है। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »