10 Apr 2020, 08:07:21 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

बजट उप्र की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन के लक्ष्य के लिए ठोस नींव: डॉ. शर्मा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 18 2020 7:32PM | Updated Date: Feb 18 2020 7:33PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बजट को जन कल्याणकरी बताते हये कहा है कि बजट में राज्य की अर्थव्यवस्था को एक  ट्रिलियन तक पहुचाने के लक्ष्य को हासिल करने की ठोस नींव रखी गई है। डॉ. शर्मा ने मंलगवार को यहां कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार का बजट युवाओं के सपनों को नए पंख देने का काम करेगा। उन्होंने कहा कि बजट में राज्य की अर्थव्यवस्था को एक  ट्रिलियन तक पहुचाने के लक्ष्य को हासिल करने की ठोस नींव रखी गई है।
 
बजट देश का भविष्य कहे जाने वाले युवाओं  को स्वरोजगार व रोजगार से जोडने के लिए  प्रदेश में मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना व युवा उद्यमिता विकास अभियान प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दोनों योजनाएं युवाओं के सुनहरे भविष्य की नई इबारत लिखेंगी। सरकार सूबे में अब राष्ट्रनिर्माण के लिये कुशल व सक्षम युवाओं को तैयार करेगी जो आने वाले समय में देश का मान सम्मान बढाएंगे। करीब 100 करोड से आरंभ होने वाली मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना में आन जाब ट्रेंनिंग के दौरान प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले को भत्ता दिया जाएगा जिसमें 2500 रूपए सरकार की ओर से तथा शेष राशि उद्योग द्वारा वहन की जाएगी।
 
डॉ. शर्मा ने कहा कि युवा उद्यमिता विकास अभियान युवाओं को रोजगार से स्वावलंबन की ओर ले जाने में मददगार होगा। सरकार की मंशा सूबे को शिक्षा का केन्द्र बनाने की है। प्रदेश में उच्च शिक्षा को प्रोत्साहन के लिए तीन नए राज्य विश्वविद्यालय बनाए जा रहे।  इसके अलावा प्रयागराज में लॉ विश्वविद्यालय तथा गोरखपुर में आयुष विश्वविद्यालय की स्थापना प्रस्तावित की गई है।  उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आधारभूत सुविधाओं के विकास के लिए राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा  अभियान  के तहत 111 करोड रुपए प्रस्तावित है।
 
उन्होंने कहा कि पुलिस एन्ड फारेन्सिक विश्वविद्यालय के लिए भी धनराशि प्रस्तावित कर दी गई है। अल्पशिक्षित व बेरोजगारों को रोजगार से जोडने की कडी में अब तक आठ लाख 50 हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। यह बजट पूरी तरह से युवा की शिक्षा कौशल संवर्द्धन व रोजगार  पर केन्द्रित है। हर जिले में 50 करोड की लागत से युवा हब  की स्थापन की जाएगी। बजट को संतुलित व ऐतिहासिक बताते हुए उन्होंने कहा कि यह युवा  महिला  गरीब व किसान के कल्याण के द्वार को खोलने वाला बजट है।
 
इसमें प्रदेश में अवस्थापना  विकास के साथ ही औद्योगिक विकास  पर बल दिया गया है। इन क्षेत्रों में होने वाले कार्य युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर लेकर आएंगे। उपमख्यमंत्री ने कहा कि बजट में कानून व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए  व्यवस्था की गई है। भाजपा सरकार के सत्ता में आने के बाद से अपराध में कमी आई है। शिक्षा को बेहतर करने के लिए स्कूल चलों अभियान के लिए एक करोड 80 लाख रूपए की व्यवस्था की गई है। अटल आवासीय विद्यालयों के लिए भी 270 करोड का प्राविधान है। 
 
माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों के रिक्त पद भरे जा रहे हैं।  आम जन मानस को बेहतर आवागमन की सुविधा के लिए गोरखपुर कानपुर आगरा में मेट्रो सेवाओं  के लिए धनराशि प्रस्तावित कर दी गई है। सूबे के हर जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए हर जिले में मेडिकल कालेज की दिशा में सरकार आगे बढी है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »