01 Oct 2020, 21:29:49 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Others

मणिपुर में लॉकडाउन कुछ ढील के साथ 15 अगस्त तक बढ़ाया

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Aug 7 2020 4:47PM | Updated Date: Aug 7 2020 5:31PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

इम्फाल। मणिपुर में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी  संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्य मंत्रिमंडल ने लॉकडाउन में कुछ रियायत देते हुए इसे 15 अगस्त तक बढ़ा दिया है। मणिपुर मंत्रिमंडल ने कल शाम एक बैठक के बाद लॉकडाउन को 15 अगस्त तक बढ़ाने का फैसला किया। राज्य में दो सप्ताह के पूर्ण लॉकडाउन के बाद थोक की दुकानों को शुक्रवार को खोलने की अनुमति दी गयी। राज्य में  थोक डीलरों को बाजार खोलने की अनुमति देने के सरकारी आदेश के बावजूद राजधानी में लोग कोरोना वायरस के मामलों का कोई बिना किसी यात्रा इतिहास नहीं होने के बाद कोरोना के मामले बढ़ने से चिंतित हैं।
 
राज्य की सड़कें वीरान पड़ी हैं और अधिकतर स्थानों पर लोगों ने इलाके में प्रवेश के रास्तों को बंद कर दिया है। मुख्य सचिव डॉ. राजेश कुमार ने अपने आदेश में कहा है कि कोविड-19 प्रबंधन के राष्ट्रीय दिशा-निर्देशों के पालन के तहत लॉकडाउन के दौरान कुछ आपातकालीन गतिविधियों को अनुमति दी गयी है। आवश्यक वस्तुओं के संग्रहण, प्रसंस्करण, वितरण की होम डिलीवरी और में दूध और दूध उत्पादों की बिक्री दैनिक उपयोग के लिए किराने का सामान, सब्जियों, फलों, दूध बूथों, पॉल्ट्री मांस जैसे आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए खुदरा दुकानों को रविवार को छोडकर अन्य दिनों में सुबह आठ बजे से 12 बजे तक खोलने की अनुमति दी गयी है।
 
सभी आवश्यक वस्तुओं के वाहनों को अंतरराज्यीय सीमा माओ, जिरीराम और जेस्सामी को पार करने की अनुमति दी गयी है। सामान पहुंचाने के बाद या सामान लेने के लिए खाली ट्रकों सहित दो चालकों और एक सहायक के साथ सभी ट्रकों और अन्य वाहनों की आवाजाही की अनुमति दी गयी है। सरकार ने सभी अस्पतालों को तत्काल उपचार की जरूरत वाले मरीजों को भर्ती करने का आदेश दिया है। राज्य में जन औषधि केंद्र और चिकित्सा उपकरण की दुकानों सहित दवा की दुकानें भी खुली रहेंगी।
 
इसके अलावा एलपीजी सिलेंडरों की होम डिलिवरी, पोस्ट ऑफिस सहित डाक सेवाओं, कृषि और उससे संबंधित गतिविधियों, मत्स्य फार्मों के ऑपरेशन को शुरू किया गया है। बैंक शाखायें और एटीएम और बिजनेस इकाइयों में कर्मचारियों की कुल संख्या के 30 फीसदी से अधिक नहीं होने चाहिए। सभी कार्यालयों में सचिव स्तर के अधिकारी और उससे ऊपर के अधिकारियों को सचिवालय में उपस्थित रहने को कहा गया है।
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »