30 Sep 2020, 07:28:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

ऑयरलैंड की विश्व चैंपियन इंग्लैंड पर हैरतअंगेज जीत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Aug 6 2020 12:31AM | Updated Date: Aug 6 2020 12:32AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

साउथम्पटन। कप्तान एंडी बालबर्नी (113) और सलामी बल्लेबाज पॉल स्टर्लिंग (142) की शानदार शतकीय पारियों तथा उनके बीच की 214 रन की मैच विजयी साझेदारी की बदौलत ऑयरलैंड ने विश्व चैंपियन इंग्लैंड को मंगलवार को तीसरे और अंतिम वनडे में सात विकेट से हराकर हैरतअंगेज जीत हासिल की। इंग्लैंड ने इस हार के बावजूद तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की।  सीरीज के अंतिम वनडे में 329 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑयरलैंड टीम के बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी की और इंग्लैंड के गेंदबाजों को कोई मौका न देते हुए 49.5 ओवर में तीन विकेट खोकर विजयी लक्ष्य हासिल कर लिया।
 
मैच अंतिम ओवर तक काफी रोमांचक बना रहा। इंग्लैंड ने 49.5 ओवर में 328 रन बनाये जबकि आयरलैंड ने 49.5 ओवर में तीन विकेट पर 329 रन बनाकर यादगार जीत हासिल की। स्टर्लिंग को प्लेयर ऑफ द मैच और इंग्लैंड के डेविड विली को प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिलायह सीरीज ऐसी वर्ल्ड कप सुपर लीग के तहत पहली सीरीज थी जो 2023 में भारत में होने वाले वनडे विश्व कप के लिए क्वालीफायर भी है। इसके तहत मैच जीतने वाली टीम को 10 अंक मिलते हैं। इस सीरीज से इंग्लैंड को 20 और आयरलैंड को 10 अंक हासिल हुए।   
 
सलामी बल्लेबाज स्टर्लिंग ने 142 रनों की अपनी तूफानी एवं मैच विजयी पारी में नौ शानदार चौके और छह छक्के उड़ाए। कप्तान बालबर्नी ने भी उनका बखूबी साथ दिया और 113 रनों की अपनी सधी हुई पारी में 12 बेहतरीन चौके लगाए। ऑयरलैंड को 50 रन के स्कोर पर गैरेथ डेलनी (12) के रूप में  पहला झटका लगा। लेकिन इसके बाद स्टर्लिंग और बालबर्नी ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया और संभल कर खेलते हुए दोहरी शतकीय साझेदारी की। स्टर्लिंग ने जहां तेजी से रन बटोरे वहीं कप्तान बालबर्नी ने दूसरा छोर संभालते हुए बेहतरीन पारी खेली। दूसरे विकेट के लिए स्टर्लिंग और बालबर्नी के बीच 214 रन की मैच विजयी साझेदारी हुई।
 
इसके बाद हैरी टेक्टर और केविन ओ ब्रायन ने मैच के अंतिम ओवरों में क्रमश: 29 और 21 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को ऐतिहासिक जीत दिला दी। इंग्लैंड की ओर से डेविड विली और आदिल राशिद को एक-एक विकेट मिला। विली ने डेलनी को बोल्ड किया जबकि राशिद ने बालबर्नी को कैच आउट कराया। स्टार्लिंग को करेन  ने रन आउट किया।
 
इंग्लैंड के खिलाफ उसकी जमीन पर लक्ष्य का पीछा करते हुए किसी भी टीम की यह सबसे बड़ी जीत है। आयरलैंड ने इस तरह भारत का 2002 में 326 रन के लक्ष्य का पीछा करने का रिकॉर्ड तोड़ा। आयरलैंड ने इंग्लैंड के खिलाफ लक्ष्य का पीछा करने के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ा। आयरलैंड ने 2011 के विश्व कप में भारत के बेंगलुरु में इंग्लैंड के खिलाफ 328 रन के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »