18 Apr 2021, 14:04:09 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

बैंको के निजीकरण के विरोध में 15-16 मार्च को देशव्यापी हड़ताल

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 1 2021 8:09PM | Updated Date: Mar 1 2021 8:10PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

हिसार। बैंकों के निजीकरण के विरोध में ऑल इंडिया राष्ट्रीयकृत बैंक आफिसर फैडरेशन की ओर से 15 -16 मार्च को देशव्यापी हड़ताल करने का ऐलान किया है। इस आंदोलन में बैंक कर्मचारियों व अधिकारियों द्वारा सरकार के बैंकों के निजीकरण के फैसले पर रोष जताया जा रहा है। 

इसी के अंतर्गत आज हिसार में केनरा बैंक की मुख्य शाखा के सामने एक सभा आयोजित की गई जिसको हिसार में विशेष रूप से पधारे ऑल इंडिया राष्ट्रीयकृत बैंक आफिसर फैडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.के. मेहता ने संबोधित किया। सभा में कामरेड संदीप बतरा, संजय चंदा, राजीव सुनेजा, हिमांशु कटारिया, सुरेन्द्र कुमार, प्रतीक ऐलावादी व पंकज वर्मा ने भी अपने विचार रखे। इस मौके पर बैंक कर्मचारियों व अधिकारियों ने बड़ी संख्या में भाग लेकर अपना रोष प्रकट किया व केन्द्र सरकार की नीतियों का विरोध कर जमकर नारेबाजी की।

अपने संबोधन में फैडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.के. मेहता ने कहा कि बैंकों के निजीकरण के अतिरिक्त अन्य कई मुद्दों पर भी रोष जताया जा रहा है जैसे कि समान काम समान वेतन की मांग, रिटायर कर्मचारियों का मेडिकल बीमा सेवारत कर्मचारियों के बराबर हो, वेतन वृद्धि में रुकावट इत्यादि। 

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार केवल अपने पूंजीपति मित्रों को खुश करने के लिए बैंकों का निजीकरण कर रही है जबकि देश के विकास में सभी बैंकों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। फिर चाहे जन-धन खाते खुलवाना हो, नोटबंदी हो या फिर बैंक को बीमा से लिंक करना हो। बैंक कर्मचारियों ने हमेशा देश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर महानगरों तक में अपनी निर्बाध सेवा दी है। देश के गरीब से गरीब नागरिक से लेकर बड़े-बड़े पूंजीपतियों तक का बैंक में खाता है। आज के दौर में सरकार को चाहिए था कि देश में बैंकिंग प्रणाली और उसकी सुविधाओं को मजबूत करे। 

 मेहता ने बताया कि 14 मार्च तक सभी बैंक शाखाओं व कार्यालयों के बाहर प्रर्दशन किया जाएगा व सभी सदस्य 16 मार्च तक ब्लैक बैज लगाकर ड्यूटी करेंगे। एक मार्च से 4 मार्च तक सभी प्रदेशों की राजधानी में प्रेस मीटिंग की जाएंगी जबकि 8 मार्च को मीटिंग में सामान्य जनता को भी बैंकों के निजीकरण के बुरे असर से अवगत कराया जाएगा। इसके बाद 11 मार्च से 14 मार्च तक पुन: प्रेस मीटिंग की जाएगी तथा 15 व 16 मार्च को सभी बैंक कर्मचारियों व अधिकारियों द्वारा देशव्यापी हड़ताल की जाएगी। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »