19 Jan 2021, 02:09:35 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Others

मुगल रोड बंद, कश्मीर राजमार्ग पर एक ओर से यातायात

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 30 2020 4:09PM | Updated Date: Nov 30 2020 4:10PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में 86 किलोमीटर लंबी ऐतिहासिक मुगल रोड पर सोमवार को लगातार आठवें दिन भी दिन भी बर्फ और फिसलन के कारण यातायात बंद रहा। यातायात पुलिस अधिकारी ने आज दोपहर यूनीवार्ता को बताया कि कश्मीर घाटी को देश के अन्य हिस्सों से जोड़ने वाले  सड़क श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक ओर से यातायात की अनुमति दी गई है। उन्होंने बताया कि दक्षिण कश्मीर में शोपियां को जम्मू क्षेत्र के राजौरी और पुंछ से जोड़ने वाली मुगल रोड बर्फ जमा होने के कारण 23 नवंबर से बंद है।

हालांकि बर्फ हटाने का कार्य तुरंत शुरू कर दिया गया था लेकिन तापमान शून्य से कम होने के कारण कई स्थानों पर सड़क पर बर्फ जमने से बहुत फिसलन हो गई है। जिसमें दुबजान और पीर-की-गली शामिल हैं। गर्मियों में कश्मीर घाटी से देश भर की विभिन्न मंडियों में ताजे फलों को ले जाने के लिए इस सड़क का वैकल्पिक मार्ग के रूप में उपयोग किया जाता है। सर्दी के मौसम में बर्फबारी के कारण इस सड़क के बंद हो जाने की परेशानी को देखते हुए सरकार ने सभी मौसम में यातायात के लिए एक सुरंग को बनाने की मंजूरी दी है।

अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर आज केवल नीचे की ओर जाने वाले वाहनों को गुजरने की अनुमति है। हालांकि उन्होंने कहा कि हल्के वाहनों को दक्षिण कश्मीर में जिग काजीगुंड से 0700 बजे से 1200 बजे के वाहनों को गुजरने की अनुमति दी गई है। समय सीमा के बाद किसी भी वाहन को अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हल्के वाहनों के यात्रियों को कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करने की सलाह दी गई है। उन्होंने कहा कि काजीगुंड से जम्मू की भारी वाहनों को जाने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि ट्रैफिक कंट्रोल यूनिट रामबन विपरीत दिशाओं से खाली तेल टैंकरों और जल्दी खराब हो सकने वाले उत्पादों को ले जाने वाले वाहनों को जल्द वाले निकालने का प्रयास करेगी। सुरक्षा बलों को सलाह दी गई कि वे यात्रा परामर्श का पालन करें और केवल श्रीनगर से जम्मू तक ही जाएं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »