25 May 2024, 17:52:18 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

थोड़ी देर में दीघा घाट पर होगा सुशील कुमार मोदी का अंतिम संस्कार, मौजूद रहेंगे बिहार BJP के बड़े नेता

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 14 2024 6:29PM | Updated Date: May 14 2024 6:29PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी का थोड़ी देर में करीब 6 बजे के आसपास अंतिम संस्कार किया जाएगा। फिलहाल उनके पार्थिव शरीर को पटना में उनके आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। अंतिम संस्कार के वक्त बीजेपी के कई बड़े नेता पटना के दीघा घाट श्मशान घाट पर मौजूद रहेंगे। 72 वर्षीय सुशील कुमार मोदी पिछले कई महीने से कैंसर से जूझ रहे थे। उन्होंने सोमवार को दिल्ली एम्स में आखिरी सांस ली। सुशील मोदी की गिनती बिहार में बीजेपी के कद्दावर नेताओं में होती थी।

सुशील कुमार मोदी का पार्थिव शरीर दोपहर में दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पहुंचा। जहां से पटना के राजेंद्र नगर इलाके में स्थित उनके आवास पर ले जाया गया। अंतिम संस्कार से पहले पार्थिव शरीर को बिहार विधानसभा और बीजेपी राज्य मुख्यालय भी ले जाया जाएगा। जहां, पार्टी के कार्यकर्ता और नेता अपने दिवंगत नेता को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे। इसके बाद पार्थिव शरीर को पटना के दीघा घाट श्मशान घाट ले जाया जाएगा।

सुशील कुमार मोदी 2005 से 2013 तक और फिर 2017 से 2020 तक बिहार के डिप्टी सीएम रहे। विधानसभा सदस्य के अलावा विधानमंडल और राज्यसभा सांसद भी रह चुके थे। उन्होंने 3 अप्रैल 2024 को सोशल मीडिया पर कैंसर से पीड़ित होने की बात कही थी। उन्होंने कहा था, पिछले छह महीने से कैंसर से संघर्ष कर रहा हूं। अब लगा कि लोगों को बताने का समय आ गया है। लोकसभा चुनाव में कुछ कर नहीं पाऊंगा। प्रधानमंत्री को सब कुछ बता दिया है। देश, बिहार और पार्टी का सदा आभार और सदैव समर्पित।

पूर्व डिप्टी सीएम के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि पार्टी में अपने मूल्यवान सहयोगी और दशकों से मेरे मित्र रहे सुशील मोदी जी के असामयिक निधन से अत्यंत दुख हुआ है। बिहार में बीजेपी के उत्थान और उसकी सफलताओं के पीछे उनका अमूल्य योगदान रहा है। आपातकाल का पुरजोर विरोध करते हुए, उन्होंने छात्र राजनीति से अपनी एक अलग पहचान बनाई थी। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »