06 Aug 2020, 21:14:46 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

जवानो की शहादत बेकार नहीं जायेगी : मुख्यमंत्री योगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 3 2020 11:31PM | Updated Date: Jul 3 2020 11:32PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कानपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चौबेपुर में शहीद हुये पुलिस जवानो की शहादत बेकार नहीं जायेगी और जघन्य वारदात में दोषी किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जायेगा। योगी ने शुक्रवार का यहां पुलिस लाइन में शहीद आठ पुलिसकर्मियों के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हे श्रद्धाजंलि दी। उन्होने कहा कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती लेकिन शहीद सभी आठ पुलिसकर्मियों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। साथ ही प्रत्येक शहीद के परिवार को सरकारी नौकरी और अप्रत्याशित पेंशन का लाभ दिया जायेगा।
 
उन्होने कहा कि पुलिस के जवान कोरोना संकटकाल में अपने दायित्व का भरपूर निर्वहन कर रहे है और अपराधियों से भी निपट रहे हैं। दिनभर की ड्यूटी के बाद अपराधियों और माफिया के खिलाफ जारी पुलिस के अभियान के तहत ही पुलिस टीम छापा मारने गई थी। जिन लोगों ने घटना को अंजाम दिया है, उन्हें कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दी जाएगी। किसी भी कीमत पर अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। उसे कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दिलाई जाएगी।
 
घटना को अंजाम देने वालों को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गईं हैं, जो छापेमारी कर रही है। पुलिस मुठभेड़ में दो अपराधी मारे गए हैं। पुलिस जवानों से छीने गए असहलों में कुछ बरामद हो गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘ मैं इन बहादुर जवानों को उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा के लिये अपने आप को बलिदान करने के लिए, उनकी शहादत को कोटि-कोटि नमन करता हूं। शोक संतप्त परिजनों के प्रति हमारी पूरी संवेदना है और जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है,इस घटना के लिए जो भी जिम्मेदार पाया जाएगा,कानूनन वह व्यक्ति इस घटना की सजा भी भुगतेगा। मैं इस बात का विश्वास दिलाता हूं कि हमारे जवानों का यह बलिदान किसी भी स्थिति में व्यर्थ नहीं जाएगा।’’   
 
योगी ने इससे पहले सर्वोदय नगर स्थित नर्सिंग होम में भर्ती सात पुलिसकर्मियों से मुलाकात की और उनकी बहादुरी की सराहना कर हौसलाफजाई की। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद थे। उन्होने कहा कि कानपुर में दुर्दांत अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी अथवा उसके मुठभेड़ में धराशायी होने तक पुलिस के आला अधिकारी यहीं कैंप करेंगे। उधर चौबेपुर के बिकरू गांव पहुंच कर पुलिस प्रमुख हितेश चन्द्र अवस्थी ने घटना का जायजा लिया और कहा कि पुलिस टीम कायराना हमला करने वाले अपराधियों के दिन पूरे हो चुके हैं और अब जल्द ही उन्हे वहां पहुंच दिया जाएगा जहां उन्हेंं होना चाहिए।
पुलिस की टीम इस कायराना हरकत का बदला लेने को तत्पर है। गौरतलब है कि कानपुर नगर के चौबेपुर में दो और 3 जुलाई की रात्रि में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र के नेतृत्व में पुलिस की टीम एक दबिश में गई थी जिसमें वादी राहुल तिवारी ने धारा 307 में एक मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मुकदमे के सिलसिले में पुलिस एक दुर्दांत अपराधी के यहां छापेमारी करने के लिए गई लेकिन इस दौरान बदमाशों की गोलीबारी में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र, उपनिरीक्षक महेश चंद्र यादव,अनूप कुमार सिंह,नेबूलाल के साथ  आरक्षी जीतेन्द्र पाल,सुल्तान सिंह,बब्लू कुमार और राहुल कुमार शहीद हो गये जबकि छह पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड जवान घायल हैं। 
 

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »