28 May 2020, 04:52:02 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

कोरोना संकट: कर्नाटक के लिए अगले 36 घंटे बहुत महत्वपूर्ण

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 2 2020 6:53PM | Updated Date: Apr 2 2020 6:53PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कलबुर्गी। कर्नाटक में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के संकट से निपटने के लिए केंद्रीय नोडल अधिकारी सुबोध यादव ने गुरुवार को कहा कि राज्य के लिए अगले 36 घंटे बहुत महत्वपूर्ण होंगे क्योंकि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से बड़ी संख्या में लौटे लोगों के कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच की रिपोर्ट आनी शुरू हो गयी है। भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी यादव ने यहां संवाददाताओं से कहा कि निजामुद्दीन मरकज से लौटे बीदर के 11 लोगों की गुरुवार सुबह आयी रिपोर्ट के मुताबिक वे कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।
 
कुछ अन्य लोगों की जांच रिपोर्ट गुरुवार शाम तथा शेष लोगों की शुक्रवार तक उपलब्ध हो जायेगी। उन्होंने बताया कि निजामुद्दीन मरकज और विदेश यात्रा से लौटे अन्य व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट आने के बाद यह पता चल जायेगा कि राज्य में कोविड-19 का तीसरा चरण शुरू हुआ है या नहीं। कलबुर्गी के उपायुक्त बी शरत ने बताया कि हाल के दिनों में दिल्ली के निजामुद्दीन दरगाह में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने वाले जिले के 26 लोगों में से 14 को ‘होम क्वारंटीन’ अथवा ईएसआई अस्पताल में क्वारंटीन में रखा गया है।
 
कलबुर्गी के छह लोग अब तक लौटे नहीं हैं तथा तीन लोग दूसरे जिले में रहते हैं। उन्होंने बताया कि 14 लोगों के नमूने कलबुर्गी लैब में भेजे गये हैं जिनकी रिपोर्ट गुरुवार शाम या रात तक आने की संभावना है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कर्नाटक में कोरोना संक्रमण के 124 मामले सामने आये हैं। इनमें से तीन लोगों की मौत हो गयी है, 10 लोग स्वस्थ हो गये हैं तथा 11 लोग बीदर के हैं जो तब्लीगी जमात में शामिल हुए थे।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »