02 Apr 2020, 08:43:09 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

21वीं सदी में दुनिया में शांति, प्रगति, सुरक्षा के लिए योगदान देंगे भारत और अमेरिका

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 25 2020 12:04AM | Updated Date: Feb 25 2020 12:06AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली/आगरा/अहमदाबाद। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत और अमेरिका को ‘स्वाभाविक साझीदार’ करार देते हुए सोमवार को कहा कि दोनों देश हिन्द प्रशांत क्षेत्र में शक्ति संतुलन की स्थापना और आतंकवाद को पराजित करने तक सीमित नहीं होंगे बल्कि 21वीं सदी में पूरी दुनिया में शांति, प्रगति और सुरक्षा के लिए एक प्रभावी योगदान देंगे। भारत की पहली यात्रा पर आये अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और उनके परिवार ने पहले दिन इस महान राष्ट्र की सदियों पुरानी संस्कृति एवं जीवन मूल्यों की विविधतापूर्ण धरोहर एवं उसके वैभव के दर्शन किये तथा दुनिया के सबसे विशाल लोकतंत्र की जनशक्ति के सामने नतमस्तक हुए। गुजरात में अहमदाबाद में करीब तीन घंटे तक के व्यस्त कार्यक्रम में इंडिया रोड शो, साबरमती आश्रम और मोटेरा के सरदार पटेल स्टेडियम में अपने जीवन की सबसे बड़ी जनसभा में शामिल होने के बाद ट्रंप परिवार शाम का आगरा पहुंचा और यमुना के तट पर बने प्रेम के अनूठे स्मारक ताजमहल को हर कोने से जी भर कर निहारा। वे वहां करीब एक घंटे रहे।
 
आगरा के खेरिया वायुसैनिक हवाई अड्डे पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी अगवानी की और विदाई दी। ट्रंप यात्रा का पहला चरण समाप्त करके शाम साढ़े सात बजे नयी दिल्ली पहुंच गये। यूं तो आजादी के बाद यह अमेरिकी राष्ट्रपति की आठवीं भारत यात्रा है लेकिन पहली बार कोई अमेरिकी राष्ट्रपति केवल भारत की यात्रा पर आये हैं। ट्रंप, उनकी पत्नी एवं प्रथम महिला मेलनिया ट्रंप, पुत्री इवांका ट्रंप और दामाद जेरैड कुशनर पूर्वाह्न 11 बजकर 40 मिनट पर अहमदाबाद पहुंचे। हवाई अड्डे पर भव्य स्वागत के बाद उनका काफिला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के काफिले के साथ लगभग 22 किमी लंबे रोड शो ‘इंडिया रोड शो’ पर निकल पड़ा। दोपहर 12 बजे शुरू हुए रोड शो के दौरान रास्ते में दोनों तरफ लाखों लोग सड़क किनारे खड़े थे। इसके अलावा मार्ग पर बनाये गये 28 मंचों पर अलग अलग प्रांतों की सांस्कृतिक झांकियां एवं कलाएं प्रस्तुत करते कलाकार भी उपस्थित थे।
 
एक घंटे से अधिक समय तक चले रोड शो के दौरान  ट्रंप ने महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम में भी लगभग 15 मिनट का समय गुजारा। मोदी ने दोनों को महात्मा गांधी आश्रम स्थित निवास हृदय कुंज दिखाया और इसके बारे में जानकारी दी। इस मौके पर श्री ट्रंप ने वहां बरामदे में रखे चरखे पर भी हाथ आजमाया। इस आश्रम मे ट्रंप और उनकी पत्नी का स्वागत पारपंरिक तौर पर सूत की माला पहना कर किया गया। इस अवसर पर गांधी जी के प्रिय भजन भी बजाये गये। मोदी और ट्रंप दंपति ने हृदय कुंज के बरामदे में बैठ कर एक साथ तस्वीर भी खिंचायी। ट्रंप ने वहां आगंतुक पुस्तिका में लिखा,‘‘मेरे दोस्त प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इस शानदार दौरे के लिए धन्यवाद।’’ आश्रम में कुछ समय बिताने के बाद दोपहर एक बज कर 20 मिनट पर मोटेरा स्टेडियम पहुंचे ट्रंप अपने भव्य स्वागत से अभिभूत दिखे।
 
दुनिया के सबसे बड़े सरदार पटेल किकेट स्टेडियम में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत एवं अमेरिका के संबंधों के नये धरातल पर पहुंचने का उद्घोष करते हुए कहा,‘‘आज से भारत हमेशा हमारे दिलों में एक विशेष स्थान रखेगा। ट्रंप ने डेढ़ लाख से  अधिक लोगों को संबोधित करते हुए मोदी और भारत की खूब तारीफ भी की और दोनो देशों के रिश्तों तथा भविष्य की  योजनाओं पर भी चर्चा की। अमेरिकी राष्ट्रपति ने मंच पर मोदी की मौजूदगी में लगभग 26 मिनट लंबे अपने संबोधन की शुरूआत में कहा कि वह और उनकी पत्नी मेलानिया 8000 मील की दूरी तय करते हुए हरेक भारतवासी को यह संदेश देने के लिए आये हैं कि अमेरिका भारत का सम्मान करता है और इसे प्यार करता है तथा यह हमेशा एक विश्वासी मित्र बना रहेगा।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »