01 Dec 2020, 11:29:51 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

केन्द्र की गलत नीतियों के चलते देश की अर्थव्यवस्था चौपट : यशवंत सिन्हा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 29 2020 12:44AM | Updated Date: Jan 29 2020 12:44AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

औरैया। देश भर में निकाली जा रही गांधी शांति यात्रा के अगुआ भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने केन्द्र सरकार पर तीखे हमले करते हुए गलत नीतियों के कारण अर्थव्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया। सिंह ने आरोप लगाया कि  केन्द्र सरकार की गलत आर्थिक नीतियों की वजह से देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई , जिससे जीडीपी  निचले स्तर पर पहुंच गयी है। इसमें सुधार के लिए सरकार के पास कोई नीति और कार्यक्रम नहीं है। उन्होंने कहा कि अटल और मोदी की भाजपा में दिन और रात का फर्क है, यह सरकार केवल  समाज को बांटने का कुचक्र रच रही है। पिछले नौ जनवरी से गांधी शांति यात्रा निकाल रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री सिन्हा अपने 60 कार्यकर्ताओं के साथ मंगलवार  दोपहर बाद औरैया पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने संवाददाताओं को गांधी शांति यात्रा का उद्देश्य बताते हुए कहा कि सरकार की जनविरोधी नीतियों का संविधान के दायरे में रहकर विरोध करना है।
 
जिसमें इस यात्रा को अच्छी-खासी सफलता मिल रही है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि मोदी और अटल की भाजपा सरकार में रात और दिन का अंतर है। उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों की आर्थव्यवस्था बिगड़ी है। प्रदेश सरकारों को जीएसटी का भुगतान न/न किए जाने से उनकी आर्थिक स्थिति दिनों-दिन खराब हो रही है। वित्त मंत्री किसके दबाव में है कि गाड़ी पटरी पर नहीं आ रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को नागरिकता संशोधन कानून लाने की कोई जरुरत नहीं थी। उन्होंने  सरकार पर नफरत की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि झारखंड के चुनावों से सरकार की पोल खुल चुकी है। दिल्ली के चुनावों में भी भाजपा  दोयम दर्जे की राजनीति पर उतारु हैं, लेकिन जनता अब भ्रमित  होने वाली नहीं है। इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री, ओपी सिंह आदि का सपा जिलाध्यक्ष राजवीर सिंह यादव, पूर्व विधायक प्रदीप यादव, अवधेश भदौरिया आदि ने स्वागत किया।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »