29 Oct 2020, 08:26:04 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Stock market

टेलीकॉम कंपनियों में बिकवाली के दबाव में लुढ़का शेयर बाजार

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 23 2020 7:11PM | Updated Date: Sep 23 2020 7:11PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुम्बई। विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड में वैश्विक निवेश फर्म केकेआर के 5,550 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा से कारोबार के शुरुआती पहर में बढ़त में रहने वाले घरेलू शेयर बाजार दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों में हुई भारी बिकवाली के दबाव में बुधवार को लाल निशान में बंद हुए।
 
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज भारी उठापटक के बाद 65.66 अंक यानी 0.17 प्रतिशत की गिरावट में 37,668.42 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 21.80 अंक यानी 0.20 प्रतिशत लुढ़ककर 11,131.85 अंक पर बंद हुआ।
 
विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के दम पर सेंसेक्स आज बढ़त बनाता हुआ 38,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 38,124.94 अंक पर खुला। रिलायंस इंडस्ट्रीज के रिटेल सेक्टर में केकेआर के निवेश की घोषणा से यह शुरुआती पहर में 38,140.07 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। दूरसंचार क्षेत्र में हुई भारी बिकवाली अपराह्न बाद सेंसेक्स पर हावी हो गयी और यह तेज गोता लगाता हुआ 37,313.09 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़क गया। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 65.66 अंक की गिरावट में 37,668.42 अंक पर बंद हुआ।
 
निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स की तरह रहा। यह तेजी के साथ 11,258.75 अंक पर खुला। कारोबार के शुरुआती पहर में यह 11,259.55 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। भारती इंफ्राटेल, भारती एयरटेल और टाटा स्टील जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई भारी बिकवाली के दबाव में यह 11,024.40 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का और अंतत: गत दिवस की तुलना में 21.80 अंक की गिरावट के साथ 11,131.85 अंक पर बंद हुआ।
 
कारोबारी विश्लेषकों के मुताबिक अमेरिका, जर्मनी और ब्रिटेन  में 10 साल के बांड पर यील्ड घटने से निवेशकों का रूझान जोखिम भरे निवेश में बढ़ने से यूरोपीय शेयर बाजार आज तेजी में खुले। एशियाई बाजारों में भी सकारात्मक रूख रहा जिसके दम पर घरेलू शेयर बाजार में भी शुरुआती धारणा मजबूत रही। रिलायंस जियो के पोस्टपेड प्लान की घोषणाओं ने लेकिन दूरसंचार क्षेत्र की अन्य कंपनियों भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया को करारा झटका दिया। भारती एयरटेल सेंसेक्स में आज सबसे अधिक नुकसान उठाने वाली कंपनी रही। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »