06 Mar 2021, 03:37:29 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में डेंगू लार्वा, मलेरिया की जांच और रैपिड टेस्ट, ब्लड स्लाइड का कलेक्शन करने तथा कोरोना से बचाव की जानकारी देने कार्य व्यापक स्तर पर किया जा रहा है। 
 
जिला मलेरिया अधिकारी अखिलेश दुबे ने बताया कि शहर के विभिन्न क्षेत्रों, अति संवेदनशील क्षेत्रों, स्लम एरिया और अन्य  बस्तियों में डेंगू लार्वा, मलेरिया, रैपिड टेस्ट, ब्लड स्लाइड कलेक्शन और  कोरोना से बचाव की जानकारी आदि का कार्य व्यापक स्तर पर किया जा रहा है।
 
मलेरिया की रोकथाम के  लिए विभिन्न क्षेत्रों में दल नियुक्त कर अभियान चलाया जा रहा है। भोपाल जिले में कल 927 लोगों की रेपिड टेस्ट से मलेरिया की जाँच की गई। जिनमें  भोपाल शहर में 721 और बैरसिया में 141 से अधिक लोगों की मलेरिया जांच के  लिए नमूने लिए गए।  
उन्होंने बताया कि शहर के विभिन्न क्षेत्रों में डेंगू के लार्वा के लिए 33 टीमों का दल नियुक्त किया गया है जिनके द्वारा 1303 घरों का सर्वे कर किया गया और 40 घरों में लार्वा पाया गया। अलग अलग जगहों पर 10 हजार से अधिक बर्तनों में लार्वा सर्वे किया गया, जिसमें केवल 41 बर्तनों में लार्वा पाया गया। डेंगू के लार्वा को टेमोफॉस डाल कर नष्ट किया गया।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »