16 Oct 2021, 14:32:32 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

Bike में क्यों नहीं डलवाने चाहिये चौड़े टायर्स, जानें क्‍या है नुकसान...

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 12 2021 9:08PM | Updated Date: Jul 12 2021 9:08PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। देश में स्पोर्ट्स बाइक का क्रेज़ हर युवा में देखने को मिलता है। स्पोर्ट्स बाइक के बारे में यूं तो सभी जानते हैं पर अगर फिर भी हम आपको इसका कुछ विवरण देने की कोशिश करें तो इन बाइक्स में चौड़े टायर्स, स्टाइलिश लुक्स, तेज-तर्रार स्पीड, डुअल डिस्क ब्रेक आदि जैसी चीज़ें होती हैं। लेकिन इनके फीचर्स के साथ-साथ दाम भी काफी ज्यादा होते हैं जिन्हें हर कोई अफोर्ड नहीं कर पाता। जिस वजह से कई लोग अपनी आम बाइक्स को स्पोर्टी लुक देने के लिए उनमें चौड़े टायर्स लगवा लेते हैं। लेकिन आज हम अपने इस लेख के जरिये आपको बताएंगे चौड़े टायर्स लगवाने के क्या नुकसान होते हैं।
 
अपनी बाइक में चौड़े टायर्स लगवाना हर युवा पसंद करता है। लेकिन यह पूरी तरह बाइक पर निर्भर करता है कि उसमें उन टायर्स से आपको नुकसान मिलेगा या फायदा। क्योंकि यदि आपकी बाइक 100 सीसी से 125 सीसी के इंजन तक की है और आपने उसमें चौड़े टायर्स लगवा लिये तो जाहिर तौर पर आपकी बाइक का माइलेज गिर जाएगा। चौड़े टायर्स सड़क पर अच्छी तरह पकड़ बनाकर रखते हैं, लेकिन कम पॉवर के इंजन वाली गाड़ियों को बाइक खींचने में दिक्कत ती है। जिस वजह से माइलेज गिर जाता है।
 
ऐसे करें सही टायर का चुनाव: आजकल के दौर में दो तरह के टायर्स बाज़ार में उपलब्ध हैं। एक स्टैंडर्ड टायर्स जो ट्यूब के साथ आते हैं और दूसरे ट्यूबलेस टायर्स दोनों ही टायरों की कीमतों में काफी फर्क होता है। हालांकि ट्यूलेस टायर्स के अपने फायदे हैं और यह टायर्स सड़क पर साधारण टायरों के मुकाबले अच्छी ग्रिप बना कर रखते हैं। टायर्स बदलते वक्त हमेशा ध्यान रखें अगर बाइक में पहले से ही चौड़े टायर लगे थे तो चौड़े टायर ही लगवाएं और अगर स्लिम टायर थे तो उन्हें ही लगवाएं। वरना बाइक का माइलेज बिगड़ सकता है।
 
जब भी आप अपनी बाइक में टायर्स डलवाएं तो इस बात का जरूर ध्यान रखें की टायर्स हमेशा कंपनी के ही होने चाहिए। आज के दौर में लोग टायर्स के नाम पर काफी ठगी करते हैं। आप टायर की मैन्युफैक्चरिंग डेट और क्वालिटी चेक कर सकते हैं। टायर में कंपनी का होलोग्राम लगा है या नहीं यह भी देखें। यह जरूर देखें कि टायर कहीं मेड इन चाइना  तो नहीं है। टायर की वारंटी जरूर देखें और बिल जरूर लें।  
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »