03 Jun 2020, 21:35:57 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Astrology » Religion

यहां इस मंदिर में सिर्फ प्रेग्नेंट होने आती है महिलाएं, ये है बड़ी वजह...

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 23 2020 1:02PM | Updated Date: May 23 2020 1:02PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

हर प्रसिद्ध जगह की कोई न कोई किस्सा या कहानी होती है। साथ ही हमारे देश अगर कोई महिला शादी के लंबे समय बाद भी अगर गर्भवती नहीं होती हैं तो कई लोग बिना पूछे राय देने लगते हैं। लेकिन आज हम आपको ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जहां कि फर्श पर सोते ही महिला गर्भवती हो जाती है।
 
सोने से पैदा होती है संतान- माना जाता है कि हिमाचल के मंडी जिला के लड़भडोल तहसील के सिमस गांव में एक देवी का मंदिर है जहां ये मान्यता है कि निसंतान महिलाओं के फर्श पर सोने से संतान की प्राप्ति होती है। नवरात्रों में हिमाचल के पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से ऐसी सैकड़ों महिलाएं इस मंदिर की ओर रूख करती हैं जिनके संतान नहीं होती है।
 
संतान दात्री माता- यह मंदिर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के लड़-भड़ोल तहसील के सिमस नामक खूबसूरत स्थान पर स्थित माता सिमसा मंदिर दूर-दूर तक प्रसिद्ध है। माता सिमसा या देवी सिमसा को संतान-दात्री के नाम से भी जाना जाता है। हर वर्ष यहां निसंतान दंपति संतान पाने की इच्छा ले कर माता के दरबार में आते हैं।
 
क्या है मान्यता- यदि कोई महिला सपने में कोई कंद-मूल या फल प्राप्त करती है तो उस महिला को संतान का आशीर्वाद मिल जाता है। यहां तक की देवी सिमसा आने वाली संतान के लिंग-निर्धारण का भी संकेत देती है।
 
लिंग निर्धारण के संकेत- यदि किसी महिला को अमरुद का फल मिलता है तो समझ लें कि लड़का होगा। अगर किसी को सपने में भिन्डी प्राप्त होती है तो समझें कि संतान के रूप में लड़की प्राप्त होगी। यदि किसी को धातु, लकड़ी या पत्थर की बनी कोई वस्तु प्राप्त हो तो समझा जाता है कि उसके संतान नहीं होगी।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »