29 Jan 2020, 20:04:49 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Other Sports

रेलवे ने महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी में जीते 6 स्वर्ण

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 9 2019 12:58AM | Updated Date: Dec 9 2019 12:58AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कुन्नूर। विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतने वाली सोनिया चहल (57 किलोग्राम भार वर्ग) और इंडिया ओपन में स्वर्ण जीतने वाली भाग्यवती काचारी (75 किलोग्राम भार वर्ग) ने रविवार को मुंडायाड इंडोर स्टेडियम में चौथी एलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में अपना वर्चस्व कायम करते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया। उनके इस शानदार प्रदर्शन के दम पर रेलवे ने इस चैम्पियनशिप में छह स्वर्ण पदक जीते। साल 2016 की राष्ट्रीय चैम्पियन सोनिया ने अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाते हुए यूथ वर्ल्ड चैम्पियन हरियाणा की साक्षी को एक कड़े मुकाबले में 3-2 से हराकर अपना दूसरा राष्ट्रीय स्वर्ण पदक हासिल किया। एक साल पहले रजत पदक जीतने वाली भाग्यवती ने 81 किग्रा में शैली सिंह को एकतरफा अंदाज में 5-0 से करारी शिकस्त देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। 

युवा वर्ल्ड चैम्पियन ज्योति ने रेलवे का प्रतिनिधित्व करते हुए हरियाणा की रितु ग्रेवाल को आसानी से 5-0 से हराकर 51 किग्रा कटेगरी में स्वर्ण बटोरा। 48 किगा्र में मोनिका ने आल इंडिया पुलिस की के बिना देवी को 5-0 से मात देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। दिन का सबसे रोमांचक मुकाबला रेलवे का प्रतिनिधित्च कर रही असम की प्विलाओ बासुमात्री और उनकी ही राज्य की अंकुशिता बोरो के बीच 64 किग्रा वर्ग में देखने को मिला। कोलोगने विश्व कप रजत पदक विजेता बासुमात्री ने अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाते हुए पूर्व यूथ वर्ल्ड चैंपियन बोरो को कड़े मुकाबले में 3-2 से पराजित करके स्वर्ण जीता। रेलवे के लिए छठा स्वर्ण पूर्व एशियाई चैम्पियनशिप रजत पदक विजेता पवित्रा ने 60 किग्रा में जीता। पवित्रा ने अपना शानदार फार्म जारी रखते हुए 2017 की विश्व युवा चैम्पियन हरियाणा की साक्षी चोपड़ा को 3-2 से हराया। 

आल इंडिया पुलिस को भी कविता चहल (81 प्लस किग्रा) और मीना कुमारी देवी (54 किग्रा) ने दो स्वर्ण दिलाए। अर्जुन पुरस्कार विजेता और दो बार की विश्व चैम्पियनशिप कांस्य पदक विजेता कविता ने हरियाणा की अनुपमा को 5-0 से हराया। मीना कुमार देवी ने भी अपने स्वर्ण पदक की रक्षा की। हालांकि उनका सफर आसान नहीं रहा। रेलवे की मीनाक्षी ने मीना को कड़ी टक्कर दी लेकिन मीना ने इस चुनौती को स्वीकार करते हुए 4-1 से जीत हासिल की। हरियाणा को एकमात्र स्वर्ण 75 किग्रा वर्ग में नुपुर ने दिलाया। नुपुर ने बीते साल रजत पदक जीता था लेकिन इस साल वह अपने पदक का रंग बदलने में सफल रहीं। नुपुर ने फाइनल में केरल की इंद्राजा को 4-1 से हराया। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »