21 Jul 2024, 07:28:11 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

होटल में थे वेटर, डिप्रेशन से की लड़ाई और अब हैं 114 करोड़ के मालिक

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 10 2024 6:21PM | Updated Date: May 10 2024 6:21PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कहते हैं जब आप क‍िसी चीज को द‍िल से चाह लें और उसे हास‍िल करने के ल‍िए पूरी श‍िद्दत से जुट जाएं तो दुन‍िया की सारी कायनात उसे आपका बनाने के ल‍िए लग जाती हैं। इस कहावत को चर‍ितार्थ करने वाली ऐसी ही शख्‍स‍ियत का नाम है सब्यसाची मुखर्जी। मशहूर फैशन ड‍िजाइनर सब्यसाची मुखर्जी का शुरुआती जीवन आसान नहीं था। लेक‍िन उन्‍होंने अपनी ज‍िद को पूरा करने के ल‍िए घर का व‍िरोध झेला, घर छोड़कर चले गए और आज उस मुकाम को हास‍िल कर ल‍िया है जहां हर क‍िसी के ल‍िए पहुंचना आसान नहीं होता।

उनके लहंगों की दीवानी वॉलीवुड एक्‍ट्रेस भी हैं। ऐसा भी कहते हैं क‍ि उन्हें जानने वाली हर लड़की का यही सपना होता है कि वह शादी में सब्यसाची का डिजाइन किया हुआ दुल्हन का जोड़ा पहने। इतना ही नहीं बॉलीवुड एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण, अनुष्का शर्मा, कैटरीना कैफ और प्रियंका चोपड़ा ने अपनी शादी में उन्‍हीं का ड‍िजाइन क‍िया गया दुल्हन का जोड़ा पहना था। फैशन की दुनिया में अपनी और अपने ब्रांड को पहचान बनाने वाले सब्यसाची मुखर्जी का सफर कभी भी आसान नहीं रहा।

सब्यसाची जब 15 साल के थे तो उनके पिता की नौकरी चली गई। उस दौर में उन्‍हें जरूरी चीजों के ल‍िए भी संघर्ष करना पड़ा। पिता पढ़ा-ल‍िखाकर उन्‍हें इंजीनियर बनाना चाहते थे, लेकिन उनका सपना फैशन डिजाइनर बनने का था और यही इंडस्‍ट्री उनका इंतजार भी कर रही थी। अपने सपने को लेकर कई बार प‍िता और बेटे के बीच झगड़ा भी हुआ। यह बात इतनी बढ़ गई क‍ि पापा ने उन्हें पढ़ाई करने के ल‍िए पैसा देने से मना कर दिया। फ‍िर क्‍या था वह 16 साल की उम्र में घर छोड़कर चले गए। उसके बाद उनके घर वाले काफी परेशान रहे।

घर से भागने के बाद उन्‍होंने गोवा में अपनी जीवन शुरू क‍िया। शुरुआत में पैसों की क‍िल्‍लत होने के कारण उन्‍होंने होटल में वेटर का काम किया। यहां काम करके उन्‍होंने पैसे इकट्ठा क‍िये और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT) का फॉर्म खरीदा। परीक्षा में पास होने के बाद उनका दाख‍िला यहां हो गया। इसके बाद उन्‍होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। तब तक उनकी घर भी वापसी हो गई और अपने फैसले के बारे में परिवार को जानकारी दी। 1999 में उनका निफ्ट, कोलकाता से ग्रेजुएशन पूरा हो गया।

ग्रेजुएशन में पास होने के बाद उन्‍हें कई ड‍िजाइनर ने नौकरी का ऑफर द‍िया। लेकिन उन्‍होंने जेब में पैसे नहीं होने पर भी अपना ब्रांड शुरू करने का फैसला क‍िया। 6 महीने बाद उन्होंने परिवार से 20000 रुपये उधार ल‍िये और तीन लोगों के साथ म‍िलकर तीन लोगों के साथ सब्यसाची ब्रांड शुरू किया। धीरे-धीरे वह अपने काम में आगे बढ़ते रहे। बाद में पर‍िवार ने भी उनका सपोर्ट क‍िया। 2005 में आई मूवी ब्लैक से उनकी बॉलीवुड में एंट्री हुई। इसके बाद उन्होंने कई फ‍िल्‍मों की भी ड्रेस ड‍िजाइन की। फाइनेंश‍ियल एक्‍सप्रेस की र‍िपोर्ट के अनुसार उनकी नेटवर्थ करीब 114 करोड़ रुपये है।

सब्यसाची की शुरुआती शिक्षा अरबिंदो विद्या मंदिर, चंदन नगर से हुई। एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने बताया क‍ि बचपन में वे हाथ से चलाई जाने वाली नाव से स्कूल जाते थे। वह हमेशा से फैशन डिजाइनर बनना चाहते थे। स्‍कूल के द‍िनों में वह पाप के मोजे काटकर बहन की गुड़िया के लिए ड्रेस तैयार करते थे। परिवार उन्‍हें इंजीनियर बनाना चाहता था लेक‍िन उनकी क‍िस्‍मत में कुछ और ही ल‍िखा था।

व‍िवादों से भी सब्‍यसाची का खूब नाता रहा है। साल 2021 की बात है जब एक व‍िज्ञापन में मॉडल को काफी कम कपड़ों में द‍िखाया गया था। इसके बाद खूब व‍िवाद हुआ और मध्‍य प्रदेश सरकार की तरफ से इस पर नोट‍िस जारी कर द‍िया गया। इसके अलावा उन्‍होंने एक कार्यक्रम में कहा था क‍ि यद‍ि आप मुझसे कहेंगी क‍ि साड़ी पहननी नहीं आती तो मैं कहूंगा क‍ि शर्म आनी चाह‍िए। उनके इस बयान की भी खूब आलोचना हुई थी।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »