18 Sep 2019, 12:53:33 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका - FATF ने किया ब्लैक लिस्ट

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Aug 23 2019 3:37PM | Updated Date: Aug 23 2019 3:37PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की ओर से संदिग्ध सूची में डाले जाने के बाद पाकिस्तान को एक और बड़ा झटका लगा है। FATF ने पाक को ब्लैक लिस्ट कर दिया हैं। पाकिस्तान FATF के एशिया पैसिफिक ग्रुप ने वैश्विक मानकों को पूरा करने में विफल साबित हुआ हैं, जिस कारण उसे 'ब्लैकलिस्ट' में डाल दिया गया हैं। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी हैं।
 
एपीजी की अंतिम रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान अपने कानूनी और वित्तीय प्रणालियों के लिए 40 मानकों में से 32 को पूरा करने में विफल रहा है। इसके अलावा टेरर फंडिंग के खिलाफ सुरक्षा उपायों के लिए 11 मापदंडों में से 10 को पूरा करने में पाकिस्तान विफल साबित हुआ है। अब पाकिस्तान अक्टूबर में ब्लैक लिस्ट हो सकता है, क्योंकि एफएटीएफ की 27-पॉइंट एक्शन प्लान की 15 महीने की समयावधि इसी साल अक्टूबर में खत्म हो रही है।
 
फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की ऑस्ट्रेलियाई शहर कैनबरा में बैठक हो रही है। यहां पाकिस्तान से जुड़ी म्युचुअल इवेल्यूशन रिपोर्ट (MER) पेश होने के बाद स्वीकार की जानी है। इससे पहले पाकिस्तान ने बुधवार को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स को अनुपालन रिपोर्ट सौंपी। इसमें 27 सूत्री कार्ययोजना (एक्शन प्लान) का उल्लेख है।
 
इस संबंध में एपीजी ने पाया कि इस्लामाबाद की ओर से कई मोर्चों पर खामियां हैं। साथ ही उसने मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फंडिंग को रोकने के लिए पाकिस्तान की ओर से की जा रही कोशिशों में कई तरह की खामियां पाई हैं। पाकिस्तान की ओर से 50 पैमानों पर सुधार के दावों को लेकर कोई समर्थन नहीं मिल रहा।
 
नौ देशों के इस क्षेत्रीय संगठन एपीजी में पाकिस्तान 40 पैमानों में करीब तीन दर्जन पैमानों में नाकाम रहा है। इसके अलावा 11 ‘प्रभावकारी’ पैमानों पर भी पाकिस्तान 10 में फिसड्डी साबित हुआ है। पाकिस्तान को एमईआर और फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स एक्शन प्लान, दोनों मोर्चों पर असरदार अनुपालन दिखाना है। अक्टूबर में FATF  के पूर्ण सत्र में पाकिस्तान के मामले की अंतिम समीक्षा की जाएगी।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »