24 Jul 2024, 20:54:54 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Delhi

अपने हिस्से का पानी लेने के लिए सुप्रीम कोर्ट जायेगी केजरीवाल सरकार: आतिशी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 30 2024 8:58PM | Updated Date: May 30 2024 8:58PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। दिल्ली के हिस्से का पूरा पानी की मांग को लेकर हो रही बातचीत का हरियाणा सरकार पर कोई असर नहीं पड़ने की वजह से केजरीवाल सरकार ने अब उच्चतम न्यायालय जाने का निर्णय लिया है। दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली के हिस्से की पानी की मांग को लेकर हम शीर्ष अदालत जा रहे हैं। हरियाणा सरकार द्वारा यमुना में पर्याप्त पानी नहीं छोड़ रहा है। इस वजह से दिल्ली में जल संकट गहराता जा रहा है। इससे निपटने के लिए सरकार ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। सरकार ने वॉटर टैंकर वॉर रूम बनाया है, जहां से दिल्लीवासी 1916 पर कॉल कर पानी के टैंकर मंगा सकते हैं। पानी की बर्बादी रोकने के लिए दिल्ली जल बोर्ड (डीजीबी) की 200 टीमें बनाई गई है। आतिशी ने कहा कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से पानी का संकट बना हुआ है। दिल्ली के कुछ हिस्सों में पानी की पर्याप्त आपूर्ति नहीं आ रही है। इस समस्या का मुख्य कारण हरियाणा से दिल्ली के हिस्से का पूरा पानी यमुना में नहीं छोड़ा जाना है। सबको पता है कि दिल्ली पानी के लिए काफी हद तक यमुना पर निर्भर है। यमुना के पानी से दिल्ली के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट चलते हैं। दिल्ली सरकार पानी के मसले को लेकर उच्चतम न्यायालय का रुख कर रही है।
 
वहीं, स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली में लू चल रही है। मौसम विभाग ने पहले इसका अनुमान लगाया था कि दिल्ली में इस दौरान लू के थपेड़े चलते रहेंगे। इस समय जल विभाग और स्वास्थ्य विभाग की बहुत अहम भूमिका हो जाती है, लेकिन बिना मंत्रियों को बताए स्वास्थ्य विभाग के सचिव एसबी दीपक कुमार और जल विभाग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंबरासू दोनों छुट्टी पर बताए जा रहे हैं। हमें तो इस बात की जानकारी ही नहीं है कि उनके छुट्टी पर जाने की क्या वजह है। दिल्ली की जनता हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। मुख्य सचिव ने आज बैठक में बताया कि उन्होंने दोनों को छुट्टी दी है। मुख्य सचिव इतने जरूरी विभाग के प्रमुख को बिना मंत्रियों को सूचना दिए खुद ही छुट्टी दे रहे हैं यह हैरान करने वाली बात है और दुर्भाग्यपूर्ण है। भारद्वाज ने बताया कि हम शीर्ष अदालत से मांग करेंगे कि हम सब दिल्ली में पानी की कमी देख रहे हैं। सारा देश एक है। अगर आस-पास के राज्यों के अंदर थोड़ी भी पानी देने की गुंजाइश है तो आस-पास के राज्य दिल्ली को थोड़े दिनों के लिए पानी दे दें, ताकि दिल्ली से पानी का यह संकट दूर हो सके।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »