24 Jan 2020, 23:27:18 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

विभाजन के लिए कांग्रेस नहीं बल्कि हिन्दू महासभा, मुस्लिम लीग जिम्मेदार : शर्मा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 11 2019 2:46PM | Updated Date: Dec 11 2019 3:10PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। राज्य सभा में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने बुधवार को नागरिकता विधेयक का पुरजोर विरोध करते हुए भारतीय जनता पार्टी के इस आरोप को बेबुनियाद बताया कि देश के विभाजन के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है बल्कि द्विराष्ट्र का सिद्धांत सबसे पहले हिन्दू महासभा और मुस्लिम लीग ने दिया था और इसमें ब्रिटिश सरकार की भी भूमिका थी। शर्मा ने सदन में गृह मंत्री अमित शाह की ओर से पेश किये गये इस विधेयक पर चर्चा की शुरुआत करते हुए कहा कि हम इस विधेयक का केवल राजनीतिक रूप से नहीं कर रहे है बल्कि इसलिए इसके खिलाफ हैं क्योंकि यह संविधान की मूल भावना के न केवल विरुद्ध है बल्कि यह उसकी आत्मा को ठेस पहुंचाने वाला है और यह भारतीय गणतंत्र पर हमला है। 

उन्होंने कहा कि 1937 में अहमदाबाद में हिन्दू महासभा के सम्मेलन में द्विराष्ट्र का सिद्धांत पहली बार पेश किया गया था जिसकी अध्यक्षता वीर सावरकर ने की थी। इसके बाद 1938 में मुस्लिम लीग की बैठक में भारत विभाजन का प्रस्ताव पारित किया गया था। विभाजन के पीछे अंग्रेजों की भी भूमिका थी। शाह इन बातों का उल्लेख क्यों नहीं करते। वह विभाजन का दोष कांग्रेस पर क्यों लगाते हैं, यह गलत है। उन्होंने कहा कि इतिहास को बदला नहीं जा सकता। कांग्रेस नेता ने कहा कि संविधान निर्माताओं ने नागरिकता के मुद्दे को बहुत गंभीरता से लिया था और इस पर व्यापक चर्चा की गयी थी, इसके बाद ही संविधान में इससे संबंधित प्रावधान किये थे। उन्होंने नागरिकता के मामले में धर्म को आधार नहीं बनाया था और क्या वह समझदार नहीं थे।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »