29 May 2020, 06:47:44 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Chhatisgarh

माता लिंग के रूप में विराजमान शिव, बाँझ महिलाओ को दर्शनमात्र से होती है संतान प्राप्ति

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 9 2020 10:46AM | Updated Date: Apr 9 2020 10:48AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बताने जा रहे है इस मंदिर का नाम है लिंगाई माता मंदिर आलोर गाँव की गुफा में है इस मंदिर में एक शिवलिंग है, कहते है यहाँ माता लिंग के रूप में विराजमान है शिव और शक्ति के मिले हुए इस रूप को को लिंगाई माता के नाम से जाना जाता है। पहाड़ी के ऊपर विस्तृत फैला हुआ चट्टान के उपर एक विशाल पत्थर है इस मंदिर के दक्षिण दिशा में एक सुरंग है जो इस गुफा का प्रवेश द्वार है। द्वार इनता छोटा है कि बैठकर या लेटकर ही यहां प्रवेश किया जा सकता है।
 
इस मंदिर का पट साल में एक बार ही खुलते है उस दिन यहाँ बहुत बड़ा मेला लगता है कहते है की मंदिर में दर्शन मात्रा से निसंतान व्यक्ति को संतान की प्राप्ति होती है। संतान की प्राप्ति के लिए यहाँ मन्नत मांगने का भी अलग तरीका है कहते है यहाँ शिव जी को खीर चढ़ाना पड़ता है। और पुजारी इस खीरे को वापस कर देता है फिरशिव जी सामने ही इस खीरे को नाख़ून से चिर लगा के पति और पत्नी दोनों को कहना होता है जिससे उनको संतान की प्राप्ति होती है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »