18 Jan 2021, 09:14:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

कनाडा के PM ट्रूडो के बयान को भारत ने किया खारिज, कनाडा को दिया खरा संदेश

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 2 2020 12:22AM | Updated Date: Dec 2 2020 12:29AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली । भारत ने देश में किसानों के आंदोलन को लेकर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के बयान को अपने आंतरिक मामलों में अवांछित हस्तक्षेप करार दिया है और कनाडाई नेतृत्व को सलाह दी है कि राजनयिक बातचीत का राजनीतिक मकसद से इस्तेमाल नहीं किया जाये। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने आज यहां मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा, ‘‘हमने कनाडाई नेताओं द्वारा भारत में किसानों से संबंधित कुछ टिप्पणियों को देखा है जो पर्याप्त जानकारी पर आधारित नहीं हैं। किसी लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मामलों से संबंधित ऐसी टिप्पणियां अनुचित एवं अवांछित हैं।’’          प्रवक्ता ने कनाडा के नेतृत्व को स्पष्ट संदेश देते हुए यह भी कहा, ‘‘अच्छा हो कि राजनीतिक उद्देश्यों के लिए राजनयिक बातचीत को गलत तरीके से प्रस्तुत नहीं किया जाये।’’           सिखों के प्रथम गुरु नानक देव के 551वें प्रकाश पर्व पर एक ऑनलाइन कार्यक्रम में शिरकत करते हुए कनाडा के प्रधानमंत्री ने भारत में किसानों के आंदोलन पर चिंता जताई। कनाडा में सिख समुदाय को संबोधित करते हुए ट्रूडो ने कहा, ‘‘किसानों के विरोध के बारे में भारत से ख़बरें आ रही हैं। स्थिति चिंताजनक है और हम सभी परिवार और दोस्तों के बारे में बहुत चिंतित हैं। मुझे पता है कि आप में से कई लोगों के लिए यह एक वास्तविकता है। मैं आपको याद दिला दूँ, कनाडा हमेशा शांतिपूर्ण विरोध के अधिकारों की रक्षा करेगा। हम बातचीत के महत्व पर विश्वास करते हैं और इसीलिए, हमने अपनी चिंताओं को उजागर करने के लिए सीधे भारत के अधिकारियों से कई माध्यमों से संपर्क किया है। यह हम सभी के लिए एक साथ आने का क्षण है।’’ सचिन जितेन्द्र 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »