29 Mar 2020, 16:51:24 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Stock market

कोरोना और येस बैंक के संकट से 894 अंक लुढ़का सेंसेक्स

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 6 2020 5:22PM | Updated Date: Mar 6 2020 5:23PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ को लेकर बढ़ी चिंता और येस बैंक में जारी संकट से घरेलू शेयर बाजार शुक्रवार को ढाई फीसदी की भारी गिरावट के साथ पाँच महीने के निचले स्तर पर बंद हुये। बीएसई का सेंसेक्स 893.99 अंक यानी 2.32 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,576.62 अंक पर आ गया जो पिछले साल 07 अक्टूबर के बाद का निचला स्तर है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 289.45 अंक यानी 2.57 प्रतिशत लुढ़ककर 10,979.55 अंक पर बंद हुआ। यह 19 सितंबर 2019 के बाद का निचला स्तर है। 

चौतरफा बिकवाली के बीच मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 2.36 प्रतिशत टूटकर 14,227.49 अंक पर और स्मॉलकैप 1.92 प्रतिशत की गिरावट के साथ 13,329.78 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में जिन 2,574 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ उनमें 1,919 के शेयर लाल निशान में और 527 के हरे निशान में बंद हुये जबकि 128 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये। 

रिजर्व बैंक ने येस बैंक के निदेशक मंडल को भंग कर वाणिज्यिक बैंक के कामकाज पर 30 दिन की अस्थायी रोक लगा दी है। साथ इस 30 दिन के लिए प्रति ग्राहक अधिकतम 50 हजार रुपये की निकासी सीमा भी तय कर दी है। गुरुवार शाम जारी इस आदेश से बैंकिंग क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गयी। एक समय सेंसेक्स 1400 अंक और निफ्टी 400 अंक से ज्यादा टूट गया था। हालाँकि रिजर्व बैंक और सरकार के इस आश्वासन के बाद कि बैंक में जमाकर्ताओं का पूरा पैसा सुरक्षित है, शेयर बाजार की गिरावट में कुछ कमी आयी। 

वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलने से विदेशों में भी शेयर बाजारों में बड़ी गिरावट रही। इससे कॅमोडिटी पर दबाव रहा। घरेलू शेयर बाजारों में बैंकिंग और वित्तीय कंपनियों के साथ ही धातु, तेल एवं गैस और ऊर्जा समूहों की कंपनियों पर ज्यादा दबाव रहा। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील और भारतीय स्टेट बैंक के शेयरों ने छह फीसदी से अधिक का गोता लगाया। इंडसइंड बैंक में भी साढ़े पाँच प्रतिशत की गिरावट रही। रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, ओएनजीसी, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक में तीन से चार प्रतिशत की बीच की गिरावट दर्ज की गयी। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »