29 Mar 2020, 17:07:10 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

मुंबई। नोवेल कोरोना वायरस की चिंता के कारण विदेशों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन गिरावट में रहे। अंतिम समय में हुई तेज बिकवाली से बीएसई का सेंसेक्स 190.33 अंक यानी 0.47 प्रतिशत टूटकर 40,723.49 अंक पर आ गया। यह 06 जनवरी के बाद का निचला स्तर है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 73.70 अंक यानी 0.61 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,962.10 अंक पर रहा जो 11 दिसंबर के बाद का इसका न्यूनतम बंद स्तर है। 
 
मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.61 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,462.01 अंक पर और स्मॉलकैप 0.24 प्रतिशत टूटकर 14,667.96 अंक पर बंद हुआ। तेल एवं गैस, ऊर्जा और धातु समूहों ने बाजार पर सबसे ज्यादा दबाव बनाया। आईटी और टेक समूहों की कंपनियों में भी बिकवाली हावी रही। दूरसंचार, बैंकिंग और रियलिटी समूहों में लिवाली का जोर रहा। सेंसेक्स की कंपनियों में ओएनजीसी के शेयर करीब छह फीसदी लुढ़क गये।
 
पावर ग्रिड में लगभग चार प्रतिशत, टीसीएस और एचसीएल टेक्नोलॉजीज में करीब तीन प्रतिशत और टाटा स्टील तथा रिलायंस इंडस्ट्रीज में दो फीसदी से अधिक की तेजी रही। कोरोना वायरस के लगातार नये मामले समाने आने से विदेशी शेयर बाजारों पर दबाव रहा। एशिया में हांगकांग का हैंगसेंग 0.52 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.35 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 2.75 प्रतिशत लुढ़क गया। जापान का निक्की 0.99 प्रतिशत की तेजी में रहा। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.23 प्रतिशत और ब्रिटेन का एफटीएसई 0.78 प्रतिशत फिसल गया। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »