14 Aug 2020, 19:00:51 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने गुरूवार को कहा कि पुलिस के दम पर लोकतंत्र को कुचलने में लगी योगी सरकार वास्तव में कांग्रेस के सिपाहियों से डर गयी है। पार्टी के प्रदेश दफ्तर में पत्रकारों से बातचीत में श्री लल्लू ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार दमन का चक्र चला रही है। आये दिन पुलिस के दम पर लोकतंत्र को कुचला जा रहा है। अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम की देर रात गिरफ्तारी अवैध, अलोकतांत्रिक और निंदनीय है। कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता जनता के मुद्दों पर आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भाजपा सरकार यूपी पुलिस को दमन का औजार बनाकर दूसरी पार्टियों को आवाज उठाने से रोक सकती है, हमारी पार्टी को नहीं। यह पुलिसिया कार्रवाई दमनकारी और आलोकतांत्रिक है।
 
उन्‍होंने कहा कि सरकार के निर्देश पर कांग्रेस के सिपाहियों पर फर्जी मुकदमे लाद कर जेल भेजा जा रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं का दमन किया जा रहा है। अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज का नाम किसी भी एफआईआर और चार्जशीट में नहीं था फिर भी जबरिया देर रात के अँधेरे में उनको उठाया गया।
 
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा - कांग्रेस के बढ़ते प्रभाव से से भाजपा सरकार बौखला गयी है। यह डरी हुयी सरकार है, पर हम कांग्रेस और राहुल, प्रियंका के सिपाही हैं डरने वाले नहीं। फर्जी गिरफ्तारियों से हमें डराना चाहती है योगी सरकार, पर हम डरने वाले नहीं, हम सड़क पर संघर्ष करेंगे। 
लल्लू ने कहा कि कांग्रेस के सैंकड़ो लोगो पर फर्जी मुकदमे लगाये गए है। पार्टी महासचिव मनोज यादव पर झूठा मुकदमा लगाया गया है जब वो पुलिस की हिरासत में इको गार्डन में थे।
 
सोशल मीडिया प्रभारी मोहित पाण्डेय पर भी मुकदमा कायम हुआ है जबकि वो उस समय दिल्ली से लखनऊ के रास्ते में थे, जिसकी तस्दीक टोल प्लाजा पर कटी रसीद से होती है, यह कैसे और किसके इशारे पर मुकदमा लिखा गया।
 
उन्होंने कहा कि योगी सरकार के इशारे पर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय की मुखबिरी करायी जा रही है, अंग्रेजो के लिए मुखबिरी करने वाले लोग आज कांग्रेस कार्यालय की पुलिस और खुफिया एजेंसी से मुखबरी और रेकी करवा रहे हैं। महीने भर से पुलिस गेट पर लगायी गयी, देर रात तक पुलिस हमारे कार्यालय पर क्या करती है।
 
कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’ ने इस पुलिसिया राज की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यह योगी आदित्यनाथ की सरकार का राजनीतिक द्वेषपूर्ण और कायरता भरा कदम है। सरकार विपक्ष की आवाज को दबाना चाहती है। कांग्रेस के बढ़ते प्रभाव से योगी सरकार की बौखलाहट साफ-साफ दिख रही है।
 
मिश्रा ने कहा कि सत्ता पोषित दमन से हम कांग्रेस, राहुल-प्रियंका के सिपाही डरेंगे नहीं, सड़क पर संघर्ष करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में संघर्ष की लम्बी और शानदार परंपरा रही है, लोकतंत्र को बचाने के लिए दलित-पिछड़ा विरोधी योगी सरकार के खिलाफ अब हम सड़कें गरम करेंगे।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »