07 Aug 2020, 02:47:33 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Madhya Pradesh

अपने क्षेत्र के विकास के लिए भाजपा में आए हैं प्रद्युम्न : भूपेंद्र सिंह

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 12 2020 4:15PM | Updated Date: Jul 12 2020 4:16PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

सागर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बुंदेलखंड अंचल की मलहरा विधानसभा सीट से विधायक रहे प्रद्युम्न सिंह लोधी का आज पार्टी में प्रवेश के कदम का स्वागत करते हुए कहा कि मौजूदा सरकार के कार्यकाल में इस अंचल का विकास और तेजी से होगा। सिंह ने यहां मीडिया से कहा कि लोधी का कदम स्वागतयोग्य है। लोधी और उनके परिवार का बुंदेलखंड अंचल में जनाधार के अलावा काफी प्रभाव और प्रतिष्ठा है।
 
अब उनके भाजपा में आने से इस क्षेत्र का और बेहतर तरीके से विकास होगा। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि लोधी अपने क्षेत्र छतरपुर जिले के मलहरा के विकास के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से हाल ही में मिले और विकास को प्राथमिकता देते हुए उन्होंने भाजपा में आने का निर्णय लिया। सिंह ने कहा कि दरअसल राज्य में कांग्रेस के पंद्रह माह के शासन के दौरान विकास कार्यों पर ध्यान नहीं दिया गया। इस वजह से सिर्फ विपक्ष के ही नहीं, कांग्रेस के विधायक भी परेशान रहे।
 
राज्य में पिछले साढ़े तीन माह के दौरान भाजपा के सत्ता में आने के बाद से स्थितियां बदली हैं और अब विकास कार्यों को ही प्राथमिकता दी जा रही है। लोधी के विधायक पद से त्यागपत्र देकर, कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने संबंधी सवाल के जवाब में सिंह ने कहा कि दरअसल कांग्रेस में राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर पर बेहतर नेतृत्व का अभाव है।
 
पार्टी में अंतर्कलह भी बढ़ता जा रहा है। राज्य में वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के बीच किस तरह के मतभेद हैं, ये किसी से छिपा हुआ नहीं है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में विकास कार्यों को प्राथमिकता दी जा रही है। इन स्थितियों के बीच कांग्रेस के विधायकों में असंतोष पनपे, तो यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार राज्य के विकास और जन कल्याण के लक्ष्य को लेकर ही आगे बढ़ रही है।
 
आज कांग्रेस और विधायक का पद छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले प्रद्युम्न सिंह लोधी मूलत: दमोह जिले के हिंडोरिया के निवासी हैं। लेकिन उन्होंने 2018 में विधानसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर पड़ोसी छतरपुर जिले की मलहरा सीट से लड़ा और वे विजयी होकर पहली बार विधानसभा पहुंचे। वे पहले भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े रहे, लेकिन 2018 में तत्कालीन राजनैतिक स्थितियों के चलते लोधी ने मलहरा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा।
 
वे पहले भाजपा से जुड़े संगठनों में पदाधिकारी रहे थे। दरअसल बुंदेलखंड अंचल के अधीन आने वाले दमोह, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़ और पन्ना जिलों में लोधी समाज के मतदाता काफी तादाद में हैं। पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता उमा भारती भी इसी अंचल से आती हैं। वहीं केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल भी दमोह संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं। लोधी की भाजपा में वापसी के मामले में भूपेंद्र सिंह की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »