19 May 2021, 03:21:41 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

गेम चेंजर साबित होगा बीसीसीआई का ओलम्पिक में भाग लेने का फैसला

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 19 2021 12:02AM | Updated Date: Apr 19 2021 12:03AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का अपनी पुरुष और महिला टीमों को 2028 के लॉस एंजेलिस खेलों में भाग लेने देने का फैसला वैश्विक रूप से गेम चेंजर साबित होगा। इंग्लैंड एन्ड वेल्स क्रिकेट बोर्ड के इयान व्हाटमोर ने इस फैसले के लिए एक शब्द ग्लोबलाइजेशन का इस्तेमाल किया है। व्हाटमोर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् की ओलम्पिक समिति के सदस्य भी हैं।

व्हाटमोर ने अपनी बात का खुलासा करते हुए कहा, "इस फैसले से क्रिकेट खेल पूरी दुनिया में फैलेगा। अमेरिका, दक्षिण अमेरिका और चीन तक पहुंचेगा। हम इस खेल को वैश्विक स्तर पर पहुंचाना चाहते हैं और ओलम्पिक खेलों में क्रिकेट को शामिल किये जाने से हमारे खेल को घरेलू स्तर पर दिखाने का मौका मिलेगा और इसे दुनिया भर में नए दर्शक मिलेंगे। ईसीबी इस परिणाम को हासिल करने का समर्थन करता है।'

स्कॉटलैंड के प्रमुख और हाल तक आईसीसी की ओलम्पिक समिति का हिस्सा रहे टोनी ब्रायन ने कहा, "यह एक बड़ा फैसला है। मैं हमेशा इस फैसले की उम्मीद कर रहा था। मैं जनता हूं कि यह सशर्त है लेकिन निश्चित रूप से एक बड़ा कदम है। बीसीसीआई के बिना यह काफी मुश्किल होता यदि असंभव नहीं। एसोसिएटस को इससे खुशी होगी। हमारे कई सदस्यों के लिए एक ओलम्पिक खेल को सरकार से फडिंग मिलती है। क्रिकेट को एक राष्ट्रीय खेल के रूप में पहचान मिलेगी और कई एसोसिएट्स देशों में इसकी स्कूलों में कोचिंग दी जा सकेगी।"

वर्षों तक सदस्यों देशों के विरोध खास तौर पर बीसीसीआई के विरोध के बाद आईसीसी ने पिछले वर्ष अपनी ओलम्पिक समिति बनायी जिसमें इंद्रा नुई, इयान व्हाटमोर , तवंगवा मुकुहलानी और इमरान ख्वाजा को सदस्य बनाया गया था। इस पैनल का काम क्रिकेट को चार साल में होने वाले ओलम्पिक में फिर से शामिल करना था और उनका पहला काम भारत को बोर्ड में लाना था। बीसीसीसाई को बोर्ड में लाने के बाद आईसीसी अब अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति और लॉस एंजेलिस ओलम्पिक की आयोजन समिति के समक्ष लाना होगा।

2024 में होने वाले पेरिस ओलम्पिक की समय सीमा समाप्त हो चुकी है और आईसीसी को असहाय होकर इन खेलों को देखना होगा जबकि ब्रेक डांस जैसे इवेंट्स को पेरिस ओलम्पिक में शामिल किया जा चुका है। लॉस एंजेलिस ओलम्पिक में क्रिकेट 28 मान्यता प्राप्त खेलों में शामिल भी नहीं है। क्रिकेट को उन पांच खेलों में शामिल होना होगा जो आयोजन समिति के विवेक पर होंगे और आयोजन समिति को आईओसी के साथ चर्चा कर यह फैसला करना होगा। क्रिकेट आखिरी बार पेरिस में 1900 में हुए ओलम्पिक में खेला गया था।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »