05 Dec 2021, 07:30:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

सिंघु बॉर्डर पर आंदोलनकारियों के मंच के करीब मिली युवक की लाश, किसान मोर्चे ने बुलाई आपात बैठक

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 15 2021 11:13AM | Updated Date: Oct 15 2021 11:57AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। सिंघु बार्डर पर जहां किसान आंदोलन कर रहे हैं, वहां मंच के करीब एक युवक की लाश मिली है। उसके हाथ काटकर शव को बैरिकेड से लटकाया गया। कुंडली थाना पुलिस ने शव को उतारा और सिविल हॉस्पिटल लेकर पहुंची। किसानों के प्रदर्शन स्थल के पास शख्स को जिस बेदर्दी से मारा गया था, उसने सबके रोंगटे खड़े कर दिए। अब संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया है कि इस हत्या के पीछे निहंग सिख हैं। उन्होंने ही उस शख्स का हाथ काटा और जान ली।
 
इतना ही नहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने खुद को निहंग सिखों से अलग कर लिया है और कहा कि वह जांच में पुलिस का पूरा सहयोग देंगे। इसके अलावा सुबह एक आपातकालीन मीटिंग भी बुलाई गई है, जिसमें इस घटना पर बात होगी। मीटिंग में संयुक्त किसान मोर्चा की कॉर्डिनेशन कमेटी के सात सदस्य शामिल होंगे।
 
आजतक के अनुसार, सिंघु बार्डर पर आंदोलनकारियों के मुख्य मंच के करीब सुबह युवक का शव लटका हुआ मिला। उसकी उम्र लगभग 35 वर्ष है। युवक के शरीर पर धारदार हथियार से हमले के निशान मिले हैं। युवक का हाथ कलाई से काट दिया गया है।
 
गौरतलब है कि दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश की अलग-अलग सीमाओं पर किसान तीन नए कृषि कानूनों के विरुद्ध धरना दे रहे हैं। इस धरने को 9 महीने से अधिक का समय बीत चुका है किसान संगठनों और सरकार के बीच कई बैठकें भी हुईं, मगर अबतक कोई हल नहीं निकला है। किसानों का कहना है कि वे लोग कृषि कानूनों की वापसी से पहले नहीं हटेंगे। जबकि सरकार का कहना है कि वह कानूनों को वापस नहीं लेगी, हालांकि किसानों के बताए हर संभव बदलाव करने को तैयार है।
 

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »