03 Jun 2020, 11:41:40 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Other Business

कोविड-19 से जंग के बीच फोन-पे ने शुरू किया 'आई फॉर इंडिया' अभियान

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 5 2020 2:32PM | Updated Date: Apr 5 2020 2:33PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। डिजिटल भुगतान कंपनी फोन-पे ने कोरोना वायरस के विरुद्ध जारी लड़ाई के मद्देनजर पीएम राष्ट्रीय राहत कोष के लिए 100 करोड़ रुपये जुटाने का अभियान शुरू करने के बाद अब एक और 'आई फॉर इंडिया' अभियान शुरू किया है। कंपनी ने हैशटैग 'आई फॉर इंडिया' नामक राष्ट्रीय आंदोलन के शुभारंभ की घोषणा की, जिसमें भारत को कोविड-19 महामारी द्वारा उत्पन्न असाधारण चुनौतियों से लड़ने में मदद मिलेगी।
 
'आई फॉर इंडिया' अभियान हर भारतीय से अपील है कि वह देश की जनता को सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए सरकारी एजेंसियों, डॉक्टरों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, पुलिसकर्मियों और आपातकालीन कर्मचारियों का समर्थन करें, जो लॉकडाउन अवधि के दौरान चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं। 'आई फॉर इंडिया' अभियान में शामिल होने के लिए फोन-पे ने कम से कम 10 करोड़ भारतीयों से पीएम निधि में दान करने के लिए कहा है।
 
कंपनी ने कहा कि यह 30 अप्रैल, 2020 तक यूपीआई का उपयोग करके फोन-पे ऐप के माध्यम से पीएम केयर फंड में दान करने वाले प्रत्येक भारतीय के साथ कंपनी की ओर से भी 10 रुपये का योगदान किया जाएगा। फोन पे ने पांच दिन पहले अपना दान अभियान शुरू किया था, और 10 लाख से अधिक भारतीयों ने फोन-पे ऐप के माध्यम से पीएम केयर फंड में दान किया है।
 
फोन-पे के संस्थापक और सीईओ समीर निगम ने एक बयान में कहा, "नया आई फॉर इंडिया अभियान हमारे 100 करोड़ रुपये जुटाने के अभियान की शानदार प्रतिक्रिया का प्रतिबिंब है। निगम ने कहा, "10 लाख से अधिक लोग पहले ही पांच दिनों से कम समय में हमारे ऐप के माध्यम से पीएम केयर कोष में दान कर चुके हैं।
 
इसलिए अब हम प्रत्येक भारतीयों से इसके लिए एकजुट होने और अपने समय और धन के सहयोग की अपील करते हैं। एक रुपया या एक लाख मायने नहीं रखता है, बल्कि हर भारतीय का समर्थन मायने रखता है। फोन-पे ने कहा है कि यूपीआई के माध्यम से किए गए सभी दान सीधे दान करने वालों के बैंक खाते से पीएम केयर फंड बैंक खाते में स्थानांतरित कर दिए जाएंगे। ये दान आयकर अधिनियम की धारा 80 जी के तहत 100 प्रतिशत कर छूट के लिए मान्य होगा।  
 
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »