25 Feb 2020, 07:31:16 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

तेल आयात एवं ऊर्जा के अन्य विकल्पों पर काम कर रही है सरकार :धर्मेंद्र प्रधान

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 6 2020 12:45AM | Updated Date: Jan 6 2020 12:46AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

वाराणसी। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को यहां कहा कि ईरान-ईराक युद्ध के कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेज की कीमतों में वृद्धि की आशंका भारत के लिए चिंता की बात है, लेकिन सरकार इसके मद्देनजर खाड़ी देशों के अलावा आयात एवं ऊर्जा के अन्य वैकल्पिक उपायों पर लगातार काम कर रही है।
 
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा नागरिका (संशोधन) कानून की ‘वास्तविकता’ जनता तक पहुंचाने के लिए राष्ट्रव्यापी ‘महासंपर्क’ अभियान शुरु करने आये प्रधान ने संवादाताओं के एक सवाल पर कहा कि सरकर पेट्रोलियम पदार्थों की अपनी जरूरतों के मद्देजनर ‘शॉट टर्म के साथ-साथ लांग टर्म’ की योजना पर भी काम कर रही है।
 
कच्चे तेज के आयात के मामले में खाड़ी के देशों के अलावा अन्य कुछ देशों से आयात कने के अलावा वैकल्पिक ऊर्जा के उपायों पर गंभीरता से काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार देश एवं दुनियां में शांति चाहती है। यहीं, भारत एवं पूरी दुनियां के हित में है। अंतरराष्ट्रीय अशांति के कारण पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में वृद्धि स्वभाविक है लेकिन भारत की कोशिश है कि दुनियां में शांति बनी रहे और इसके लिए प्रयास भी करती रहती है।
 
इस संदर्भ में भारत ने अपना पक्ष दुनियां के सामने रख दिया है और कोशिश रहेगी के विश्व में तनाव उत्पन्न न हो। युद्ध के कारण खाड़ी देशों में भारतीय नागरिकों के फंसे होने की आशंका संबंधी एक सवाल पर प्रधान ने कहा कि चिंता करने की कोई बात नहीं है। सरकार पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए है। वैसे, सऊदी अरब समेत जिन देशों में अधिक संख्या में भारतीय रहते हैं, उन देशों शांति हैं और कोई घबराने की बात नहीं है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »