10 Aug 2020, 01:31:43 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

असम में बाढ़ : काजीरंगा नेशनल पार्क में 76 जानवरों की मौत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 16 2020 3:21PM | Updated Date: Jul 16 2020 3:21PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की एक रिपोर्ट के अनुसार, असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। इस प्राकृतिक आपदा की वजह से गुरुवार को राज्य में दो और लोगों की जान चली गई थी। राज्य के 33 में से 26 जिलों के लगभग 36.50 लाख लोग बाढ़ की मौजूदा स्थिति में प्रभावित हो गए हैं। 26 जिलों में शामिल हैं - धेमाजी, लखीमपुर, बिश्वनाथ, सोनितपुर, दरंग, बक्सा, नालबारी, बारपेटा, चिरांग, बोंगाईगांव, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सलमारा, गोलपारा, कामरूप, कामरूप (मेट्रो), मोरीगांव, नागांव, होजई, गोलाघाट, जोरहाट, माजुली, शिवसागर, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया, कार्बी आंगलोंग।
 
ऊपरी असम के कुछ जिलों में बाढ़ की स्थिति में सुधार होने के बाद बाढ़ के हालात थोड़े सुधरे हैं। मगर, निचले असम के जिलों में बाढ़ की स्थिति अभी भी गंभीर है। धुबरी सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है, जहां 5.51 लाख लोग बाढ़ के कारण प्रभावित हैं। बारपेटा जिले में 5.29 लाख लोग, गोलपारा जिले में 4.27 लाख लोग, मोरीगांव जिले में 4.20 लाख लोग और दक्षिण सालमारा जिले में 2.25 लाख लोग प्रभावित हैं।
 
ASDMA की बाढ़ रिपोर्ट में कहा गया है कि 26 जिलों के 91 राजस्व क्षेत्रों के तहत 3,363 गांव वर्तमान में पानी में डूबे हैं और बाढ़ के पानी ने लगभग 1.29 लाख हेक्टेयर फसलों को तबाह कर दिया है। वहीं, 37 हजार 592 बाढ़ प्रभावित लोग वर्तमान में 247 राहत शिविरों में रहने को मजबूर हो गए हैं।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »