04 Jul 2020, 15:58:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

चीन विवाद पर हाईलेवल मीटिंग - PM मोदी ने NSA डोभाल, और तीनो सेना....

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 27 2020 12:03AM | Updated Date: May 27 2020 12:04AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। भारत और चीन के बीच लद्दाख में उपजी तनातनी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने NSA अजीत डोभाल संग एक हाईलेवल मीटिंग की है। प्रधानमंत्री मोदी ने इन एनएसए डोभाल के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत तथा तीनो सेना प्रमुखों से भी मुलाकात की। इससे पहले उन्होंने विदेश सचिव से भी बात की थी।
 
दरअसल, पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास कई क्षेत्रों में भारत और चीनी सैनिकों के बीच तनातनी की स्थिति है। साल 2017 के डोकलाम गतिरोध के बाद यह भारत और चीन के बीच सबसे बड़ी सैन्य तनातनी हो सकती है। गौरतलब है कि भारत ने पैंगोंग त्सो और गलवान घाटी में जबसे अपनी स्थिति मजबूत की है। तब से चीन चिढ़ा हुआ है।
 
इसके बाद चीन ने इन दोनों विवादित क्षेत्रों में अपने दो से ढाई हजार सैनिकों की तैनाती कर दी है। इसके बाद वह अब अस्थायी निर्माण को मजबूत कर रहा है। पांच मई से फैले विवाद के बाद अब तक दोनों देशों के सैनिकों के बीच 6 बार मीटिंग हो चुकी है, लेकिन ये बातचीत विफल रही है।
 
दरअसल, चीन चाहता है कि भारत एलएसी पर अपने भी क्षेत्र में नि र्माण कार्य न करे। लेकिन भारत ये मानने को तैयार नहीं है। भारत का कहना है कि वह अपने क्षेत्र में निर्माण कार्य कर रहा है तो इससे चीन को क्या आपत्ति हो सकती है। भारत ने चीन से सीमा पर शांति बनाए रखने की भी बात कही है। इसके बाद भी चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र से वापस नहीं जा रहे।
 
इससे पहले देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी आज सीडीएस जनरल रावत तथा तीनों सेना प्रमुखों के साथ तनाव के मामले पर लंबी समीक्षा बैठक की। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने मामले की स्थिति के बारे में पूरी जानकारी राजनाथ सिंह को दी। सेना प्रमुख दो दिन पहले ही लेह का दौरा करके वापस लौटे हैं।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »