02 Apr 2020, 09:41:36 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

भारत-अमेरिका के बीच रक्षा, ऊर्जा क्षेत्र में करार की संभावना

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 23 2020 2:08AM | Updated Date: Feb 23 2020 2:08AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप 24 फरवरी को अहमदाबाद में उनके भव्य स्वागत के बाद आगरा में ताजमहल के दीदार के लिए रवाना होंगे लेकिन वहां मेहमानों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं रहेंगे। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को कहा कि हमने मीडिया में रिपोर्ट देखी है कि ट्रंप की आगरा यात्रा के दौरान मोदी उनके साथ रहेंगे, लेकिन ऐसा नहीं है। वहां न तो कोई सरकारी कार्यक्रम रखा गया है और न ही कोई बड़ी भारतीय हस्ती वहां रहेगी जिससे अमेरिकी राष्ट्रपति और प्रथम महिला को ताजमहल देखने में कोई असुविधा न हो। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री अहमदाबाद में ट्रंप के साथ रहेंगे जहां उनके लिए एक सार्वजनिक स्वागत समारोह आयोजित किया जायेगा। दिल्ली आने के बाद 25 फरवरी से उनके आधिकारिक कार्यक्रम शुरू होंगे। 
 
अमेरिका के वाशिंगटन में एक संवाददाता सम्मेलन में एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति भारत और अमेरिका के बीच मजबूत और स्थायी संबंधों के प्रदर्शन के लिए भारत जा रहे हैं। ये संबंध लोकतांत्रिक परंपरा, साझा रणनीति एवं आर्थिक हित तथा दोनों देशों के नागरिकों के बीच आपसी रिश्तों पर आधारित हैं। अधिकारी ने बताया कि इस यात्रा के दौरान आर्थिक और ऊर्जा क्षेत्र में करार जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित किया जायेगा। दोनों देशों के बीच 2018 में आपसी व्यापार 142 अरब डॉलर के पार पहुंच गया था जिसमें और प्रगति होने की संभावना है। ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान कम से कम पांच समझौतों पर हस्ताक्षर किये जाने की तैयारी हो रही है लेकिन यात्रा का मुख्य ध्यान द्विपक्षीय समझौतों की बजाय अमेरिकी नेतृत्व के सामने भारत की सदियों पुराने सांस्कृतिक वैविध्य एवं वैभव के साथ लोकतंत्र की ताकत प्रदर्शित करने पर होगा जिससे दोनों देशों की वैश्विक रणनीतिक साझेदारी और सशक्त होगी।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »