21 Oct 2020, 18:37:15 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Others

बिहार को एनपीजीसी संयंत्र से जून से मिलने लगेगी 1683 मेगावाट बिजली

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 24 2020 1:31PM | Updated Date: Sep 24 2020 1:32PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

औरंगाबाद। देश की सबसे बड़ी ऊर्जा कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई नबीनगर पावर जेनरेटिंग कंपनी की सुपर थर्मल पावर परियोजना से बिहार को अगले वर्ष जून से 1683 मेगावाट बिजली मिलने लगेगी। 

एनपीजीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय सिंह ने गुरुवार को बताया कि औरंगाबाद जिले के बारुन और नवीनगर प्रखंड की सीमा पर स्थापित एनपीजीसी की सुपर थर्मल पावर परियोजना की पहली इकाई से बिहार को अभी 565 मेगावाट से अधिक बिजली मिल रही है और जून 2021 तक इस परियोजना की दोनों इकाइयों के चालू हो जाने से 1683 मेगावाट बिजली बिहार को मिलने लगेगी। 

उन्होंने बताया कि परियोजना की दूसरी इकाई से दिसंबर से बिजली का व्यवसायिक उत्पादन प्रारंभ हो जाएगा। इस इकाई में 660 मेगावाट बिजली उत्पादन होगा। इस इकाई से व्यावसायिक उत्पादन शुरू करने की सभी तैयारियां अंतिम चरण में हैं और इसके परीक्षण का सभी कार्य लगभग पूरा किया जा चुका है। 

सिंह ने बताया कि इस परियोजना में 660-660  मेगावाट की कुल तीन इकाइयां स्थापित की जा रही हैं और इसके तीनों इकाइयों से कुल 1980 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा, जिसका 85 प्रतिशत बिहार को मिलना है। उन्होंने बताया कि पहली इकाई से अभी 660 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है जबकि दूसरी इकाई दिसंबर से और तीसरी इकाई जून 2021 से चालू हो जाएगी। इन तीनों इकाइयों के चालू हो जाने से बिहार बिजली के मामले में और बेहतर स्थिति में हो जाएगा।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »