07 May 2021, 04:38:41 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Lifestyle

अगर आप है वेजिटेरियन तो हो सकती है प्रोटीन की कमी, खाना शुरू करें ये चीजें

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 23 2021 4:01PM | Updated Date: Mar 23 2021 4:01PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

प्रोटीन शरीर की सभी कोशिकाओं में पाया जाता है। यह शरीर में सभी कोशिकाओं, मासंपेशियों आदि के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्रोटीन त्वचा, बाल और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। हमारे शरीर में जाने वाली डेली कैलोरी का लगभग 10-35 प्रतिशत हिस्सा प्रोटीन से ही मिलता हैं। रोजाना एक व्यक्ति को प्रति किलो शरीर के वजन के हिसाब से 0.8 ग्राम प्रोटीन लेना चाहिए। मीट, फिश और अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, पर वेजिटेरियन लोग इससे अछूते रह जाते हैं।
 
आइए जानते हैं उन चीजों के बारे में जो नॉन वेज न होकर भी प्रोटीन का अच्छा सोर्स मानी जाती है। दाल, भारतीय भोजन का अहम हिस्सा है। दाल में मौजूद प्रोटीन और पोषक तत्व शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। एक कप उबली हुई दाल में लगभग 17.86 ग्राम प्रोटीन होता है। यह आसानी से बनकर तैयार हो जाती है और आप रोजाना इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। आमतौर पर काबुली चने को छोले कहा जाता है। यह दाल का ही एक रूप है। आप इसका सेवन कई तरह से कर सकते हैं। छोले की कढ़ी, सूप, सब्जी आदि बनाकर इनका स्वाद ले सकते हैं। रोस्टेड छोले का सेवन स्नैक्स के रूप में किया जा सकता है।
 
एक कप उबले हुए छोले में 14.53 ग्राम प्रोटीन होता है। मूंग में प्रोटीन, आयरन, फाइबर और कई तरह के पोषक तत्व होते हैं। ज्यादातर लोग इन्हें अंकुरित करके खाना पसंद करते हैं। मूंग का सलाद, खिचड़ी और दाल आदि किसी भी तरह बनाकर इसे खाया जा सकता है। एक कप उबले हुए मूंग में 14.18 ग्राम प्रोटीन होता है। लिमा बीन्स को सेम की फली कहा जाता है। इसमें मौजूद पोटैशियम, फाइबर और आयरन शरीर के लिए फायदेमंद होता है। आमतौर पर लोग सेम की फली की सब्जी बनाकर खाते हैं।
 
एक कप उबली हुई सेम की फली में 11.58 ग्राम प्रोटीन होता है। शायद ही कोई होगा जिसे हरी मटर खाना पसंद ना हो। हरी मटर प्रोटीन के अलावा पोषक तत्वों से भरपूर होती है. हरी मटर की सब्जी, सूप, पुलाव आदि बनाकर खा सकते हैं। एक कप उबली हुई हरी मटर में 8.58 ग्राम प्रोटीन होता है। किनोआ, ग्लूटेन फ्री होता है। इसमें ग्लूटेन बिल्कुल भी नहीं पाया जाता है। किनोआ किसी घास पर नहीं उगता है। इसलिए इसे स्यूडोसीरियल कहते हैं।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »