07 Aug 2020, 06:10:57 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

अहमदाबाद। पश्चिम रेलवे ने 22 मार्च से लागू पूर्ण लॉकडाउन और वर्तमान आंशिक लॉकडाउन के दौरान 389 पार्सल विशेष ट्रेनों के माध्यम से 73 हजार टन से अधिक वजन वाली अत्यावश्यक वस्तुओं का परिवहन किया। इस परिवहन से उत्पन्न आय लगभग 23.43 करोड़ रुपये रही। पश्चिम रेलवे की ओर से शनिवार को यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार 23 मार्च से नौ जुलाई तक 389 पार्सल विशेष ट्रेनों के माध्यम से 73 हजार टन से अधिक वजन वाली अत्यावश्यक वस्तुओं का परिवहन किया गया, जिनमें कृषि उत्पाद, दवाइयां, मछली, दूध आदि मुख्य रूप से शामिल थे। इस परिवहन के माध्यम से उत्पन्न आय लगभग 23.43 करोड़ रु रही।
 
इस अवधि के दौरान 55 दूध विशेष रेलगाड़यिाँ चलाई गईं, जिनमें 41 हजार टन से अधिक का भार था और इससे लगभग 7.13 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। इसी प्रकार 27,700 टन से अधिक भार वाली 324 कोविड -19 विशेष पार्सल ट्रेनें भी विभिन्न आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए चलाई गईं, जिनके लिए अर्जित राजस्व 14 करोड़ रुपये से अधिक रहा।
 
इनके अलावा 4355 टन भार वाले 10 इंडेंटेड रेक भी चलाये गये, जिनसे 2.16 करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ। देश के विभिन्न हिस्सों में लॉकडाउन अवधि के दौरान पश्चिम रेलवे ने विभिन्न समयबद्ध पार्सल विशेष रेलगाड़यिों के परिचालन का सिलसिला लगातार जारी रखा है। इनमें से तीन पार्सल स्पेशल ट्रेनें, पश्चिम रेलवे के विभिन्न स्टेशनों से 10 जुलाई को रवाना हुईं, जिनमें बांद्रा टर्मिनस - लुधियाना और पोरबंदर - शालीमार विशेष ट्रेन शामिल हैं। एक मिल्क स्पेशल ट्रेन पालनपुर से हिंद टर्मिनल के लिए रवाना हुई।
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »