29 Oct 2021, 02:22:09 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

Share Market: सेंसेक्स 1000 अंक तक टूटा, निफ्टी में भी भारी गिरावट, जानें क्‍या बोले एक्‍सपर्ट

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 28 2021 3:36PM | Updated Date: Sep 28 2021 3:36PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। शेयर बाजार मंगलवार को फिर 60 हजार अंक के ऊपर खुला। Sensex की शुरुआत 60,285.89 अंक से हुई। लेकिन कारोबार की समाप्‍ति तक सेंसेक्स 1000 अंक तक गिरा गया, बाद में यह कुछ सुधरा और 35.51 अंक टूटकर 59,242.37 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। वहीं निफ्टी 224.05 अंक गिरकर 17,631.05 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। SMC Global के एमसी गुप्‍ता के मुताबिक Sensex का गिरना स्‍वाभाविक है। क्‍योंकि कई दिनों से बाजार में Correction की बात चल रही थी। चीन का संकट भी ग्‍लोबल मार्केट को प्रभावित कर रहा है। गुरुवार को PMI और दूसरे आंकड़े आने के बाद बाजार में कुछ सुधार देखने को मिल सकता है। निवेशकों को इस गिरावट को लेकर घबराना नहीं चाहिए। 
 
इससे पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और मारुति के शेयरों में लाभ से सोमवार को सेंसेक्स और निफ्टी मामूली बढ़त के साथ अपने नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए। हालांकि, बाजार ने कारोबार के दौरान अपना अधिकांश शुरुआती लाभ गंवा दिया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 60,412.32 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया। कारोबार की समाप्ति पर अंत में यह 29.41 अंक यानी 0.05 प्रतिशत की बढ़त के साथ अपने नए रिकॉर्ड स्तर 60,077.88 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में लाभ दर्ज हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 1.90 अंक यानी 0.01 प्रतिशत के लाभ से अपने नए सर्वकालिक उच्चस्तर 17,855.10 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में मारुति का शेयर सबसे अधिक 6.53 प्रतिशत चढ़ गया। महिंद्रा एंड महिंद्रा, बजाज ऑटो, एनटीपीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर भी लाभ में रहे। वहीं एचसीएल टेक, टेक महिंद्रा, बजाज फिनसर्व और इन्फोसिस, एलएंडटी, नेस्ले इंडिया और हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में गिरावट आई। सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में 17 नुकसान में रहे जबकि 13 में लाभ रहा।
 
रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच घरेलू बाजारों में सीमित दायरे में कारोबार हुआ। आईटी तथा फार्मा कंपनियों में मुनाफावसूली से वाहन कंपनियों के शेयरों में तेज बढ़त का लाभ सिमट गया। उन्होंने कहा कि अक्टूबर से मांग में सुधार की उम्मीद से वाहन कंपनियों के शेयरों में जोरदार लाभ रहा। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि आईटी, फार्मा और एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली से बाजार अपनी बढ़त को कायम नहीं रख पाया और स्थिर रुख के साथ बंद हुआ। उन्होंने कहा कि रियल्टी शेयरों सकारात्मक परिवेश से तेजी का रुख रहा। वहीं आगामी त्योहारों के दौरान आटोमोबाइल क्षेत्र में बिक्री बढ़ने की उम्मीद में धारणा तेजी की रही। बाजार इस सप्ताह अगस्त के बुनियादी क्षेत्र उद्योग के उत्पादन आंकड़ों और सितंबर के विनिर्माण पीएमआई आंकड़ों पर भी नजर लगाये हुये है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »