07 Dec 2019, 06:25:36 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

अयोध्या में आखिर रामलला कब तक टेंट में बैठे रहेंगे : सैयद शाहनवाज हुसैन

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 18 2019 10:10PM | Updated Date: Sep 18 2019 10:13PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश द्वारा राम मंदिर मामले की सुनवाई 18 अक्टूबर तक पूरी करने के ऐलान का स्वागत करते हुए बुधवार को कहा कि पूरे देश को इंतजार है कि अयोध्या में श्री रामजन्मभूमि पर टेंट वाले मंदिर की जगह भव्य राममंदिर का निर्माण हो। भाजपा के वरिष्ठ प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने यहां एक टेलीविजन चैनल से बातचीत में कहा कि उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश ने जो कहा है, उसका हम स्वागत करते हैं। यह अच्छी बात है कि मुख्य न्यायाधीश के मन में है कि जल्द से जल्द से इस मामले की सुनवाई पूरी हो और पूरे देश को इंतजार है कि टेंट में  इस समय जो राममंदिर है, उसकी जगह एक भव्य मंदिर  बने। उन्होंने कहा कि हम चाहते थे कि इस मामले का जल्द से जल्द फैसला आये।
 
इतने दिनों तक इस विषय को लटकाना ठीक नहीं है और इसका कोई मतलब नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘लोगों को लगता है कि आखिर कब तक रामलला टेंट में रहेंगे। अल्लामा इकबाल ने भी राम को इमामे हिन्द कहा था।’’ उन्होंने कहा कि इस मामले में सही मायने में कोई विवाद है ही नहीं। जहां तक सहमति बनाने की बात है तो हमने सहमति बनाने का भरपूर प्रयास किया। हमने अदालत में पैरवी भी की लेकिन कुछ लोगों ने राजनीति करके इसे लंबा लटकाये रखा। भाजपा ने पालनपुर की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में राममंदिर के पक्ष में प्रस्ताव पारित किया था और तभी से हम इसके पैरोकार रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे राजनीतिक विरोधी भी कहते थे कि आप जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 कब हटाएंगे। लेकिन मोदी है तो मुमकिन है और हमने हटा कर बता दिया। हमारे विरोधी यह भी कह रहे हैं कि राममंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन तारीख नहीं बताएंगे तो अब उनको तारीख मिलने वाली है। समान नागरिक संहिता के बारे में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हम कोई काम एक तरफा ढंग से नहीं करेंगे। इस विषय को भी बातचीत के बिना नहीं लेंगे। हम मानते हैं कि इस विषय पर भी लोगों में बहस होनी चाहिए।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »