18 Oct 2019, 12:17:19 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

लूट एवं डकैती डालने के पहले चार बदमाश प्रयाराज से गिरफ्तार

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 22 2019 5:49PM | Updated Date: Sep 22 2019 5:50PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने लूट एवं डकैती डालने वाले गिरोह के चार बदमाशों को घटना करने के पहले ही प्रयागराज से गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस राजीव नारायण मिश्र ने रविवार को यहां यह जानकारी दी। एसटीएफ की प्रयागराज फील्ड इकाई को लूट एवं डकैती की बड़ी घटना को अंजाम देने के पहले ही कार सवार चार बदमाशों अनिल कुमार पुष्कर, मंजीत भारतीया उर्फ पचल्ला,धर्मेन्द्र उर्फ गैंडा भारतीय और गोलू भारतीय को शनिवार रात घूरपुर इलाके से गिरफ्तार कर लिया जबकि उनका एक साथी अंकित प्रजापति फरार हो गया।
 
पकड़े गये बदमाशों के पास से तीन तमंचे ,कारतूस आदि बरामद किए। उन्होंने बताया कि शनिवार को सूचना मिली कि लूट एवं डकैती की घटना को अन्जाम देने के इरादे से कुछ कार सवार बदमाश प्रयागराज के घूरपुर क्षेत्र के इरादतगंज स्थित परेड मैदान के पास कहीं जाने की फिराक में इकट्ठा होने वाले है। इस सूचना पर एसटीएफ स्थानीय पुलिस को साथ लेकर बताये गये स्थान पर पहुंची और घेराबंदी कर कार सवार चारों बदमाशों को कल रात करीब पौने नौ बजे गिरफ्तार कर लिया गया, जिनके पास से हथियार आदि बरामद किए गये।
 
मिश्र ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश अनिल पुष्कर ने बताया गया कि वह मूलरूप से  जौनपुर का रहने वाला है तथा प्रयागराज के नैनी में अपने ससुराल में रहकर ढाबा चलाता है। ढाबे पर अक्सर कीमती माल लदे ट्रक चालक खाना खाने के लिए वहां रूकते है। कीमती सामान लदे ट्रको को देखकर अनिल को लालच आ गया तथा ट्रक लूटने की योजना बना ली।
 
टायरों का कारोबार करने वाले करीम भाई निवासी मुस्तफाबाद जौनपुर से पुरानी जान पहचान होने के बाद अनिल ने कानपुर की तरफ से अपोलो/एमआरएफ ट्यूबलेस टायर लदे ट्रक को अपने साथियों अंकित, मंजीत उर्फ पचल्ला, गोलू तथा धर्मेन्द्र उर्फ गेंडा के साथ मिलकर लूटना था। गिरफ्तार बदमाश लूटे हुये ट्रक को करीम  के पास जौनपुर पहुचाना था, जिसके एवज में करीम  20 हजार रूप्या प्रति जोड़ा टायर के हिसाब से उन्हें देता।
 
अनिल और गोलू ने बताया कि मौके से फरार अंकित ने अपने घर के आसपास एडीए कालोनी मे रहने वाले एक सर्राफा व्यवसायी के मकान की रेकी किया था, जिसकी चौक स्थित सोने चांदी की दुकान भी है। उसके बताये अनुसार सर्राफा व्यवसायी के घर मे तीन महिलाओं सहित 06 व्यक्तियों की मौजूदगी रहती है। सर्राफा व्यवसायी के घर में घुसकर डकैती डालने की घटना को, ट्रक लूटने की घटना को अंजाम देने के बाद करना था। गिरफ्तार मंजीत भारतीया उर्फ पचल्ला ने बताया कि अपने दोस्त सैदपुर निवासी जितेन्द्र के साथ मिलकर घटनाओं को अंजाम दिया था। मिश्र ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों को आज जेल भेज दिया।
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »