18 Sep 2019, 23:08:39 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

कश्मीर में 21वें दिन भी जनजीवन अस्त-व्यस्त

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Aug 25 2019 4:40PM | Updated Date: Aug 25 2019 4:41PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के 21वें दिन बाद भी श्रीनगर समेत कश्मीर में हालात सामान्य बने हुए हैं लेकिन जनजीवन अस्त व्यस्त है। कश्मीर से अभी तक किसी भी अप्रिय घटना के घटने की रिपोर्ट सामने नहीं आई है। पाबंदियां अभी भी कई जगहों पर लगी हुई हैं। रविवार को हालांकि दुकानें बंद देखी गईं और वाहन सड़कों से नदारद रहे। घाटी में 21वें दिन भी दूरसंचार सेवाएं बहाल नहीं हो सकी हैं, जिसमें लैंडलाइन, मोबाइल और इंटरनेट सेवा को अभी भी बंद रखा गया है।
 
सड़कों पर जगह-जगह बड़ी संख्या में अत्याधुनिक हथियारों से लैस केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है। सभी जवान आधुनिक हथियारों के अलावा, लाठियों और बुलेट प्रूफ जैकेटों से भी लैस हैं। यूनीवार्ता के संवाददाता ने शहर और सिविल लाइन के कई इलाकों का दौरा किया। उन्होंने बताया की किसी भी अप्रिय घटना और प्रदर्शन से निपटने के लिए केंद्रीय सुरक्षाबलों की जगह-जगह तैनाती की गई है। हालांकि, सड़कों से कंटीली तारों को हटाया गया है।
 
रविवार को घाटी के कुछ पुराने इलाकों और शहर-ए-खास इलाके में पाबंदियों में ढील दी गई है। लेकिन कुछ इलाकों में अप्रिय घटना होने की आशंका के तहत पाबंदियां अभी भी लगी हुई है। इसी बीच, हुर्रियत कॉन्फ्रेंस (एचसी) के अध्यक्ष मीरवाइज मौलवी उमर फारूक का गढ़ माना जाने वाली ऐतिहासिक जामिया मस्जिद की ओर जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए गए है। श्रीनगर के बाहरी इलाकों  और जामिया मार्केट में बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। जामिया मस्जिद के गेटों पर बुलेट प्रूफ गाड़यिों की तैनाती है। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »